बारिश होने से पहले ही टपकने लग जाती है इस मंदिर की छत...

 
बारिश होने से पहले ही टपकने लग जाती है इस मंदिर की छत...लखनऊ। मंदिरों में आज भी अजीब-अजीब चमत्कार देखने को मिले हैं, और साथ की साथ कहीं से कोई निरोगी होकर आ रहा है, तो कहीं से अन्य बीमारियां ठीक हो रही हैं और आप को ये भी बता दे की इन्ही ऐसिहासिक और धार्मिक धरोहरों का एक नमूना है जगन्नाथ मंदिर।

यह मंदिर उत्तर प्रदेश के कानपुर जनपद भीतरगांव विकासखंड मुख्यालय से तीन किलोमीटर दूर बेहटा गांव में है।और आप को ये भी बता दे की यहां भगवान जगन्नाथ की पूजा-अर्चना होती है वैसे तो इस मंदिर की छत पर बारिश होने से 15 दिन पहले ही बूंदें टपकने लगती हैं।

आप को एक बात और बता दे की इस मंदिर में पुरातत्वविदों ने इस रहस्य का पता लगाने की तमाम कोशिशें की। वैसे आप को ये भी बता दे इस मंदिर में भगवान जगन्नाथ के साथ-साथ सूर्य भगवान और पद्मनाभन भगवान की भी मूर्ति स्थापित है और साथ की साथ इसकी दीवारें 14 फीट मोटी हैं वैसे तो आज ये मंदिर पुरातत्व विभाग के अधीन है।

इस मंदिर के ऊपर चमत्कारी मानसून पत्थर लगे हैं वैसे तो कहा जाता है कि इसी की बदौलत मानसून आने से पहले इसकी छत से बूंदे टपकने लगती हैं और साथ की साथ ये बूंदें बिलकुल बारिश की बूदों की तरह होती हैंऔर जिस दिन यहां बारिश होनी शुरू होती है, एक बात और उसी दिन यहां ये बूंदें टपकनी बंद हो जाती हैं।

From around the web