आजादी की खातिर 19 बरस की उम्र में चूमा फांसी का फंदा!

 
आजादी की खातिर 19 बरस की उम्र में चूमा फांसी का फंदा!
मुरादाबाद। जिस उम्र में युवा जिंदगी के हसीन सपने बुनते हैं। एश ओ आराम की जिंदगी गुजारते हैं। उस अवस्था में स्वतंत्रता सेनानी खुदीराम बोस ने देश की आजादी के लिए फांसी का फंदा चूम कर अमर बलिदान पेश किया।

बिलारी श्रीमती मीरा अग्रवाल सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज अमरपुरकाशी में गोष्ठी का आयोजन किया गया। प्रधानाचार्य पंडित विनोद कुमार मिश्र ने कहा कि  देश की आजादी के लिए मात्र 19 वर्ष की अल्पायु में खुदीराम बोस जी ने अपने प्राण निछावर कर दिए। आज हम सभी देशवासियों को उनके त्यागमयी जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए। इ

समें अंशुल शर्मा,मुकेश कुशवाहा, संजय सैनी, विनोद कुमार शर्मा, अविनाश मिश्रा,मेघराज सैनी,केशव सैनी, आरती ने भागीदारी की।

From around the web