साउंड पॉल्यूशन को बिजली में बदल देगी ये डिवाइस, इन दो छात्राओं ने किया अविष्कार...

 
साउंड पॉल्यूशन को बिजली में बदल देगी ये डिवाइस, इन दो छात्राओं ने किया अविष्कार...
डीएवी खूंटी की दो छात्राओं खुशी रानी और आकांक्षा साहा ने एक ऐसा डिवाइस तैयार किया है जो ध्वनि को बिजली में कन्वर्ट कर देता है।

इस डिवाइस का सबसे ज्यादा उपयोग सड़कों पर है, क्योंकि वहां वाहनों की तेज ध्वनि होती है और हॉर्न बजता है। इस कारण लगातार बिजली बनती रहेगी।

साल 2018 के अक्टूबर महीने में नीति आयोग द्वारा एक प्रतियोगिता कराई गई थी, जिसमें 50000 स्टूडेंट्स ने अपने मॉडल भेजें, जिनमें से 200 बेस्ट मॉडल को चुना गया। इनमें डीएवी खूंटी की दो छात्राओं का भी मॉडल था।

ख़बरों के अनुसार डीएवी खूंटी की प्रिंसिपल टीपी झा का कहना है कि बड़े महानगरों में ध्वनि का बुरा प्रभाव पड़ता है। लोग इससे परेशान रहते हैं। ऐसे में यह डिवाइस ऊर्जा उत्पादन और ऊर्जा संरक्षण में काफी मददगार साबित होगा। उनका कहना है कि ताली बजने पर ही यह डिवाइस सक्रिय हो जाता है। सरकार द्वारा चलाई गई इस प्रतियोगिता में उन्हीं छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया, जिनके पास भारत सरकार द्वारा दिया गया अटल टिंकरिंग लैब है।

डीएवी खूंटी के भौतिक विज्ञान के अध्यापक एम गौरी शंकर और जेबी मलिक का कहना है कि खुशी और आकांक्षा द्वारा बनाया गया यह मॉडल ऊर्जा उत्पादन का एक नया स्रोत है। जिले के साथ साथ के पूरे राज्य का नाम रोशन हुआ। इन दोनों छात्राओं ने ऊर्जा समाधान का तरीका खोज लिया। शिक्षकों का कहना है कि दोनों ने दिन रात मेहनत की और यह कर दिखाया। शिक्षकों द्वारा इन दोनों की पूरी मदद की गई।

From around the web