आतंकी कैंपों को पलक झपकते ही खाक कर देगा कश्मीरी युवा द्वारा बनाया गया ये ड्रोन

 
आतंकी कैंपों को पलक झपकते ही खाक कर देगा कश्मीरी युवा द्वारा बनाया गया ये ड्रोन
नई दिल्ली। एक कश्मीरी युवा उबेर ने ऐसा ड्रोन बनाया है, जिसका उपयोग करके सीमा पार आतंकी कैंपों को पल भर में उड़ाया जा सकेगा। 'स्वास्तिक' नाम का यह ड्रोन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस है कि यह स्वयं ही इस बात की पहचान कर सकेगा कि आतंकियों की भीड़ कहां है? आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से ही अपने टारगेट की पहचान करके उन पर बम बरसा देगा।

वहीं इस ड्रोन की एक और खासियत है कि सैन्य अभियानों के अलावा भीड़ पर आंसू गैस छोड़ने या बाढ़ में फंसे लोगों तक भोजन इत्यादि पहुंचाने जैसे कामों में भी किया जा सकेगा।

इस ड्रोन से लाइन अप डायरेक्शन में बीस किलोमीटर तक की दूरी तक हमला किया जा सकता है या किसी प्रकार की मदद पहुंचाई जा सकती है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार उबेर ने बताया कि उनकी तकनीकी की सबसे बड़ी खासियत यह है कि एक आपरेशन में दस से अधिक ड्रोन एक बार में चलाए जा सकते हैं।

एक ड्रोन आधा किलो से लेकर सात से आठ किलो तक का (अलग प्रकार के ड्रोन से) सामान एक बार में ले जा जा सकेगा। अधिकतम 30 मीटर तक की ऊंचाई तक उड़ सकने वाले इन ड्रोनों से किसी समारोह के दौरान शानदार आतिशबाजी जैसा नजारा भी लिया जा सकेगा।

From around the web