पाकिस्तान से बचाई गई उज्मा अहमद ने खोला पार्लर

 
पाकिस्तान से बचाई गई उज्मा अहमद ने खोला पार्लरउज्मा अहमद को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भारत की बेटी बताया था। वह जब 27 साल की थी तब उनका अपहरण करके, नशे की गोलियां खिलाकर और बंदूक की नोंक पर पाकिस्तान के बुनेर गांव में ताहिर अली से जबरन निकाह करवा दिया गया था। वह खैबर पख्तूख्वां के दूरस्थ क्षेत्र में कैदियों की तरह जिंदगी जी रही थीं।

वह किसी तरह से पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग पहुंचने में सफल रहीं और उन्हें 2017 में भारत वापस लाया गया। दो साल वह सदमे से बाहर निकलने की कोशिश करती रहीं।

अब उन्होंने अपने दर्द को पीछे छोड़ते हुए अपना ब्यूटी पार्लर खोला है। उन्होंने पूर्वोत्तर दिल्ली के सीलमपुर में अपनी छोटी बेटी फलक के नाम पर पार्लर खोला है।
-फाइल फोटो 

From around the web