रातभर पुलिस के साथ ग्रामीणों ने की कांबिंग

 
रातभर पुलिस के साथ ग्रामीणों ने की कांबिंग
ठाकुरद्वारा (इफ्तखार)। घर पर चार बच्चों पर क्रूरतापूर्व कैंची से प्रहार कर दर्जी रोहताश जंगल में भाग गया। इसके बाद पहुंची पुलिस के साथ ग्रामीणों ने भी रातभर जंगलों में कांबिंग की, लेकिन पता नहीं चला।
ग्राम निर्मलपुर में रात करीब साढ़े दस बजे दर्जी रोहताश ने रसोई की छत पर सोते वक्त अपने चार बच्चों पर हत्या की नीयत से ताबड़तोड़ प्रहार किया। पत्नी कलावती को भी झकझोरकर सीढ़ियों पर गिरा दिया।
चीखने चिल्लाने की आवाज सुनकर दीवार फांदकर पड़ोसी तीरथ और भोला समेत भाई भतीजे पहंुचे तो रोहताश कैंची का एक टुकड़ा मौके पर फेंक और दूसरा हाथ में लहरता हुआ जंगल की तरफ भाग गयाा। इस बीच पुलिस ने पहुंचकर पहले घायल बच्चों को सरकारी अस्पताल पहुंचाया। इसके बाद ग्रामीणों के साथ रोहताश को पकड़ने के लिए जंगलों में तलाश किया, लेकिन दूर तक जंगलों में रोहताश हाथ नहीं आया। 

From around the web