मतदान की तारीख 11 और पर्चियां बांट दी 18 की

 
मतदान की तारीख 11 और पर्चियां बांट दी 18 की जगदलपुर। बस्तर संसदीय चुनाव क्षेत्र के अंतर्गत दक्षिण बस्तर का दंतेवाड़ा जिला भी समाहित है और यहां पर आगामी 11 अप्रैल को मतदान होना है, लेकिन यहां वितरित की जा रही मतदान की पर्चियों में मतदान की तिथी 18 अप्रैल बताई जा रही है। यह भी जानकारी है कि ऐसी पर्चियां बड़ी मात्रा में इस जिले के अधिकांश क्षेत्रों में लोगों तक पहुंच भी चुकी हैं।
प्रदेश में प्रमुख विरोधी दल भाजपा ने इसे एक गंभीर मामला बताते हुए इसे राज्य शासन की लापरवाही निरूपित किया है। भाजपा नेता व विधायक भीमा मंडावी ने इस संबंध में आरोप लगाते हुए कहा है कि राज्य शासन और जिला प्रशासन दोनों ही बेसुध होकर काम कर रहे हैं। उन्हें यह भी नहीं मालूम की मतदान की तिथी 11 अप्रैल है और वे 18 अप्रैल को मतदान की तिथी बताकर पर्चियां वितरित कर रहे हैं।
उल्लेखनीय है कि बस्तर संसदीय चुनाव क्षेत्र के अंतर्गत दंतेवाड़ा जिला सहित बीजापुर, सुकमा जैसे नक्सल प्रभावित क्षेत्र सम्मिलत हैं और मतदान कराने के लिए आगामी 11 अप्रैल की तिथि के अनुसार तैयारियां की जा रही हैं। लेकिन एक बड़ी चूक सामने आई है और यहां पर मतदान की तिथी 18 अप्रैल प्रकाशित होकर पर्चियां वितरित की जा रही है। जो कि निश्चिय ही चुनाव जैसे महत्वपूर्ण कार्य में बड़ी लापरवाही प्रदर्शित करता हैै। दंतेवाड़ा के भाजपा विधायक  भीमा मंडावी ने इसे लेकर भूपेश बघेल की सरकार पर कई आरोप लगाये हैं। उन्होंने स्पष्ट कहा कि निर्वाचन अधिकारी की गलती से ही इतनी बड़ी चुक हुई है। इसी से प्रदेश सरकार की कार्य कुशलता का अंदाजा लगाया जा सकता है। 

From around the web