महिला ने बनाई अपने साथ गैंगरेप की झूठी कहानी...

 
महिला ने बनाई अपने साथ गैंगरेप की झूठी कहानी...
अमरोहा। अमरोहा के डगरौली के तीसरे मील पर हाल में क्षेत्र के गांव रूद्रपुर निवासी युवक के साथ साझे में निजी अस्पताल खोलने वाली आदमपुर के गांव निवासी महिला ने गुरुवार रात छह लोगों पर गैंगरेप करने का आरोप लगाया था। 

उसने पुलिस को बताया था कि आरोपियों ने उसके प्राइवे पार्ट पर भी चोट पहुंचाई। महिला ने गैंगरेप का आरोप अस्पताल में अपने साझीदार ऋषिपाल के अहरौला तेजवन निवासी ससुर हुक्म सिंह, साले तेजवीर, मौसेरे साले विष्णु व शाहपुर कला निवासी साढू अखिलेश पर लगाया था। उसकी तहरीर पर कुल छह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।

हिंदुस्तान की रिपोर्ट के अनुसार जांच के दौरान पुलिस को पता लगा कि अस्पताल की साझीदार महिला से नजदीकी का ऋषिपाल की पत्नी विरोध कर रही थी। हाल में उसके मौसा के गांव सुल्तानठेर में ऋषिपाल की मारपीट हुई थी। 

ऋषिपाल का साला रिंकू गंभीर रूप से घायल हुआ था। उसके परिजनों ने गजरौला थाने में ऋषिपाल पर मुकदमा दर्ज कराया था। इस मुकदमे में फैसले का दवाब बनाने के लिए महिला ने गैंगरेप की झूठी कहानी रच दी।

कोतवाल आरपी शर्मा ने बताया कि महिला ने बताया है कि उसकी ऋषिपाल से नजदीकी है। ऋषिपाल को मुकदमे से बचाने के लिए गैंगरेप में उसके रिश्तेदारों को फंसा दिया। सिरिंज से ब्लड निकालकर कपड़ों पर छिड़का था। प्राइवेट पार्ट पर ब्लेड से जख्म किया था।

From around the web