हार के बाद बोले धोनी- बल्लेबाजों ने नहीं किया होमवर्क

 
हार के बाद बोले धोनी- बल्लेबाजों ने नहीं किया होमवर्क
मुंबई इंडियंस ने चेन्नै सुपर किंग्स को उसके घर में हराकर फाइनल में एंट्री कर ली। चेन्नै की टीम ने यहां टॉस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया था और धोनी की टीम यहां 131 रन ही बना पाई। मुंबई ने 9 गेंदें शेष रहते यह लक्ष्य हासिल कर लिया। मैच के बाद धोनी अपने बल्लेबाजों से नाराज नजर आए। मैच के बाद उन्होंने कहा कि हमारे बल्लेबाजों को और अच्छा करने की जरूरत है। मुंबई की टीम ने इस सीजन चेन्नै को यह लगातार तीसरी बार हार का स्वाद चखाया है। महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, किसी एक को तो हारना ही था। चीजें हमारे ढंग से नहीं हो पाईं। खासतौर से हमारी बैटिंग। हम अपने घर पर खेल रहे हैं, तो हमें यहां की कंडिशंस को तेजी से समझना था। हमने इस पिच पर 6-7 मैच खेले हैं और हमें इस पिच को जल्दी से समझना चाहिए था। यही होम अडवांटेज होता है।
एमएस ने टीम की बल्लेबाजी पर नाराजगी जताते हुए कहा, हमारे बल्लेबाजों की जरूरत थी कि वह जल्दी से यह समझ लें कि पिच का व्यवहार कैसा है। बॉल यहां बैट पर आ रहा है या नहीं। ये ऐसी चीज थी, जिसमें हम अच्छा नहीं कर सके। मुझे लगता है कि हमारी बल्लेबाजी में और सुधार की जरूरत है।
कप्तान ने कहा, हमारे पास बेहतरीन बल्लेबाज हैं। ऐसा दिख रहा है कि हम अच्छी बल्लेबाजी कर रहे हैं लेकिन कभी-कभी किसी मैच में हमारे बल्लेबाज ऐसे शॉट खेल जाते हैं, जो उन्हें नहीं खेलने चाहिए। हमने इन प्लेयर्स पर भरोसा जताया है वे सभी अनुभवी हैं और उन्हें कंडीशंस के लिहाज से बैटिंग करनी चाहिए। उम्मीद करता हूं कि वे अगले मैच में ऐसा जरूर करेंगे।
धोनी ने यहां फील्डिंग के दौरान कुछ कैच छूटने पर भी अफसोस जताया। उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि थोड़ा-बहुत हमें भाग्य से भी साथ नहीं मिला। कुछ गेंदें सही जगह पर गिरी थीं लेकिन कुछ कैचें छूट गए। हमें शायद बल्लेबाजों से गेंद को दूर रखना था और गेंद की गति को कम करना था लेकिन हमारे पास पर्याप्त रन नहीं थे और ऐसे में हर एक बाउंड्री पर 130 के स्कोर की रक्षा करने मुश्किल होता है।

From around the web