DWC की उपराज्यपाल से सिफारिश, किसी और स्पा सेंटर को न दिया जाए नया लाइसेंस

 
DWC की उपराज्यपाल से सिफारिश, किसी और स्पा सेंटर को न दिया जाए नया लाइसेंसनई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग राजधानी में अवैध रूप से चल रहे स्पा सेंटरों पर शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। अब आयोग ने इस सेंटरों का निरीक्षण कर जांच रिपोर्ट तैयार की है।

इस रिपोर्ट के आधार पर आयोग ने उपराज्यपाल को सिफारिश की है कि किसी और स्पा को नया लाइसेंस नहीं दिया जाए और लाइसेंसिंग तंत्र को बदला जाए।

आयोग ने स्पा सेंटरों में वेश्यावृति के रैकेट चलाने में दिल्ली पुलिस, एमसीडी और नेताओं की भूमिका पर उच्च स्तरीय जांच किए जाने की मांग की है।

आयोग की अध्यक्ष ने उपराज्यपाल से अनुरोध किया है कि एमसीडी, दिल्ली पुलिस और दिल्ली महिला आयोग की संयुक्त टीमों का गठन किया जाए, जिससे कि सभी मौजूदा स्पा सेंटरों का निरीक्षण किया जा सके।

आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के अनुसार, गोवा में जिस तरह से क्रॉस जेंडर मसाज पर प्रतिबंध है, वैसे ही यहां स्पा और मसाज केंद्रों में सभी श्रेणियों में क्रॉस जेंडर मसाज पर प्रतिबंध हो।

आयोग ने दिल्ली में किए गए निरीक्षण के दौरान पाया कि दिल्ली के विभिन्न स्थानों में कई स्पा सेंटरों में बड़े पैमाने पर वेश्यावृति के रैकेट चल रहे हैं। 

From around the web