वकील ने मुझे मीडिया से बात करने से मना किया है : नाना पाटेकर

 
वकील ने मुझे मीडिया से बात करने से मना किया है : नाना पाटेकरअभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा अभिनेता नाना पाटेकर पर वर्ष 2008 में एक फिल्म के सेट पर यौन शोषण करने का आरोप लगाए जाने के मामले में नाना ने सोमवार को कहा कि इस मामले में उन्होंने जो सच 10 वर्ष पहले बताया था, वे आज भी उसी पर कायम हैं और आगे भी रहेंगे। इसके विपरीत उनके वकील ने उन्हें इस मुद्दे पर मीडिया से बात ना करने की सलाह दी है। एक मौके पर नाना ने मीडिया को किसी भी सवाल का जवाब देने से मना कर दिया।

उन्होंने कहा, "मेरे वकील और उनकी टीम ने मुझे किसी भी चैनल से बात न करने की सलाह दी है। मैं हमेशा मीडिया से मिलता रहा हूं और उससे बात की है। मुझे कोई परेशानी नहीं है (मीडिया से बात करने में), लेकिन जब मेरे वकील ने ऐसा कहा है तो मुझे उनकी बात माननी होगी। क्या मुझे इसके लिए माफ करेंगे? बहुत, बहुत धन्यवाद।" नाना इतना कहकर आगे बढ़ गए।

बार-बार आग्रह करने पर नाना ने कहा, "इस संबंध में मैंने 10 साल पहले जो कहा था, मैं सिर्फ उतना कहूंगा। कल जो सच था, वही आज है और कल भी वही सच रहेगा।"

इसके बाद मीडियाकर्मियों द्वारा पीछा किए जाने के बावजूद नाना आगे बढ़ गए। उन्होंने स्पष्ट कहा कि वह किसी को इंटरव्यू नहीं देंगे।

नाना सोमवार दोपहर में एक संवाददाता सम्मेलन संबोधित करने वाले थे, लेकिन रविवार देर शाम मीडिया को व्हाट्सएप के माध्यम से उनके बेटे मल्हार द्वारा सूचित किया गया कि कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है।

ऐसा प्रतीत हुआ कि नाना ने अंतिम समय में अपना मन बदला हो।

बॉलीवुड में 'मी टू' अभियान और महिलाओं के यौन उत्पीड़न के मुद्दे पर तनुश्री दत्ता ने सितंबर में एक साक्षात्कार के दौरान निजी अनुभव बताते हुए कहा था कि नाना ने वर्ष 2008 में फिल्म 'हॉर्न ओके प्लीज' के सेट पर उनका यौन शोषण किया था।

तनुश्री ने पिछले सप्ताह ओशिवारा पुलिस स्टेशन में इसकी एक लिखित शिकायत भी दर्ज कराई थी।

नाना हमेशा से इन आरोपों को नकारते आ रहे हैं। उन्होंने 2008 में भी एक संवाददाता सम्मेलन कर सभी आरोपों को नकार दिया था।

पिछले सप्ताह भी मीडिया से सामना होने पर उन्होंने कहा था कि वह इसका जवाब 10 साल पहले दे चुके हैं।

नाना ने कहा था, "झूठ तो झूठ ही है।"

From around the web