10वीं में फेल हुआ तो डर से छोड़ दिया घर, 42 साल बाद लौटा...

 
10वीं में फेल हुआ तो डर से छोड़ दिया घर, 42 साल बाद लौटा...दसवीं कक्षा में फेल होने के चलते डर की वजह घर छोड़ने वाला शख्स 42 साल बाद वापस लौटा है। उत्तर प्रदेश के भदोही से 15 साल की उम्र में घर छोड़ भागे मुरलीधर द्विवेदी जब 57 की उम्र में वापस लौटे तो परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई।

लंबे समय से घर से दूर रहने के दौरान यह शख्स करीब नौ साल दिल्ली और मुंबई में रहा और आखिरकार कोटा के एक एनजीओ की मदद से घर वालों को मिला।

भदोही जिले के कठारी गांव के रहने वाले मुरलीधर गुरुवार को अपने बड़े भाई शरदकांत द्विवेदी से मिले। बड़े भाई उन्हें घर वापस ले जाने के लिए कोटा पहुंचे थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार दिमागी हालत ठीक न होने के कारण मुरलीधर को नवंबर 2018 में कोटा के ‘अपना घर’ नामक NGO में लाया गया था। NGO के प्रवक्ता मनोज जैन आदिनाथ ने कहा कि महीनों चले इलाज के बाद उत्तर प्रदेश के उरई थाने की मदद से मुरलीधर के परिवार का पता चला।’

बड़े भाई शरदकांत छोटे भाई से मिलकर भावुक हो गए। मीडिया को बताते हुए उन्होंने कहा, ‘मेरे पिता सदानंद द्विवेदी एक स्कूल मास्टर थे। उन्होंने पंजाब, उत्तर प्रदेश और राजस्थान में मुरलीधर की बहुत तलाश की लेकिन नहीं मिले। कुछ सालों पहले पिताजी की मौत हो गई।’

उन्होंने बताया कि मुरलीधर हमें पत्र लिखते थे लेकिन हमेशा गलत पते देते थे जिसकी वजह से उनका पता लंबे समय तक नहीं चल पाता था। मुरलीधर के परिवार ने उनको खोजने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

From around the web