12वीं पास लड़के को दिल दे बैठी भारत घूमने आई विदेशी लड़की

 
12वीं पास लड़के को दिल दे बैठी भारत घूमने आई विदेशी लड़कीकिसी गोरी मैम और देसी ब्वॉय की प्रेम कहानी नई नहीं है। एक तरफ जहां देश में जाति, धर्म के नाम पर आज भी शादियों में दिक्कत आती है, वहीं विदेशी लड़कियों के भारतीय लड़कों से शादी करने पर किसी को एतराज नहीं होता है। एक ऐसी ही रोचक प्रेम कहानी हैं अमरीका की एक लड़की और भारत के लड़के की।

अमरीका के वाशिंगटन की रहने वाली कैनेडी मैरी वर्ष 2015 में भारत घूमने आई। वो हिमाचल प्रदेश के डलहौजी घूमने गई तो उसे वहां काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। कैनेडी को डलहौजी के टूरिस्ट प्लेस की कोई जानकारी भी नहीं थी।

यही नहीं, रहने के लिए भी कहीं कोई जगह भी नहीं मिल रही थी। पृथ्वी ने की थी कैनेडी की मदद : वह निराश होकर रास्ते पर ही बैठ गई। इसी समय एक लड़का वहां से गुजर रहा था। उस लड़के का नाम पृथ्वी सिंह है। पृथ्वी ने रास्ते में बैठी मायूस कैनडी को देखा उसकी परेशानी के बारे में पूछ लिया। कैनेडी की पूरी परेशानी जानने के बाद पृथ्वी ने कैनेडी का एक होटल में ठहरने का इंतजाम करवाया। साथ ही पृथ्वी ने उसे डलहौजी के टूरिस्ट प्लेस पर भी घुमाया।

लड़की ने किया लड़के को प्रपोज : बस यहीं ऐसे ही दोस्ती हुई और फिर कैनेडी को पृथ्वी से प्यार हो गया। प्यार ऐसा हुआ कि उसने पृथ्वी को शादी के लिए प्रपोज कर दिया। पृथ्वी सिर्फ 12वीं पास है तो शुरूआत में उन्हें अंग्रेजी समझने में भी काफी दिक्कत आई। लेकिन कहते हैं कि प्रेम किसी भाषा की मोहताज नहीं होती है। यहां भी दोनों प्रेमी धीरे धीरे एक दूसरे को समझने लग गए। हाल ही में दोनों ने सलूणी के एसडीएम कार्यालय में एक-दूसरे को अपना जीवन साथी चुन लिया। पृथ्वी ने बताया कि वो कैनडी को जीवन साथी के रूप में पाकर बेहद खुश है। पृथ्वी डलहौजी के एक होटल में काम करता था। मैरी के अनुसार, भारतीय पुरुष काफी इमानदार पति साबित होते हैं और उसने पृथ्वी को अच्छी तरह परखने के बाद ही शादी का फैसला लिया है।

विदेशों में कमिटमेंट की कमी : विदेशों में कमिटमेंट की कमी होती है, आज इसके साथ तो कल किसी ओर के साथ जैसी थ्योरी वहां ज्यादा है। जबकि भारतीय लड़कों में कमिटमेंट की भावना होती है। वे आसानी से प्यार में पड़ जाते हैं और अगर पार्टनर अच्छा हो तो वे उसी के साथ रहते हैं। इसके चलते भी विदेशी लड़कियों को इंडियन लड़के पसंद आते हैं।

From around the web