36 घंटे में पूरी दुनिया में हो सकती है 8 करोड़ मौत, अब तक का सबसे खतरनाक फ्लू

 
36 घंटे में पूरी दुनिया में हो सकती है 8 करोड़ मौत, अब तक का सबसे खतरनाक फ्लू
नई दिल्ली। दुनिया को एक खतरनाक वायरस के बढ़ते खतरे का सामना करना पड़ सकता है जो वैश्विक अर्थव्यवस्था पर और करोड़ों लोगों पर कहर बरपा सकता है।  एक अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ पैनल ने चेतावनी दी है, और सरकारों को उस जोखिम को तैयार होने का सुझाव दिया है।

रिपोर्ट के दावा किया गया है कि ये इतना खतरनाक वायरस होगा, जो दस्तक देने के 36 घंटे के अंदर पूरी दुनिया में फैल जाएगा। इसकी वजह से पूरी दुनिया में आठ करोड़ लोगों की मौत हो सकती है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार  विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के पूर्व प्रमुख ने ये अलर्ट जारी किया है। उन्होंने इसे अब तक का सबसे खतरनाक फ्लू (वायरस) बताया है। WHO ने भी इसके लिए तैयार रहने को कहा है।

विशेषज्ञों के अनुसार करीब एक सदी पहले 1918 में Spanish Flu Pandemic ने दुनिया की आबादी के एक तिहाई हिस्से को संक्रमित कर दिया था। इस फ्लू की वजह से पांच करोड़ लोगों की मौत हुई थी।

अब जो फ्लू दस्तक देने वाला है, वह स्पेनिश फ्लू से भी कहीं ज्यादा खतरनाक है। विशेषज्ञों के अनुसार ये फ्लू इसलिए भी ज्यादा खतरनाक होगा क्योंकि स्पेनिश फ्लू के मुकाबले आज के दौर में पूरी दुनिया में काफी ज्यादा और तेजी से लोग एक देश से दूसरे देश की यात्राएं कर रहे हैं।

इस लिहाज से आने वाला फ्लू पहले से ज्यादा खतरनाक साबित होगा और मात्र 36 घंटे में पूरी दुनिया में फैल जाएगा।
36 घंटे में पूरी दुनिया में हो सकती है 8 करोड़ मौत, अब तक का सबसे खतरनाक फ्लू

इस जानलेवा वायरस का अलर्ट जारी करने वाली संस्था द ग्लोबल प्रीपेयर्डनेस मॉनिटरिंग बोर्ड (GPMB) का नेतृत्व नॉर्वे के पूर्व प्रधानमंत्री व WHO के महानिदेशक Dr Gro Harlem Brundtland और इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ रेड क्रॉसव रेड क्रीसेंट सोसाइटीज  के महासचिव अल्हदज अस सय कर रहे हैं।

संस्था द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि उनके द्वारा पूर्व में जारी की गई इस खतरनाक फ्लू की रिपोर्ट को वैश्विक नेताओं ने पूरी तरह से अनदेखा कर दिया था। WHO ने भी इस रिपोर्ट पर मुहर लगा दी है।

From around the web