पाकिस्तान में पहली बार एक हिंदू महिला बनी जज

 
पाकिस्तान में पहली बार एक हिंदू महिला बनी जजसुमन कुमारी पाकिस्तान की पहली ऐसी हिंदू महिला बन गई हैं, जिन्हें सिविल जज के रूप में नियुक्त किया गया है। पाकिस्तान के कामबार-शाहदकोट में रहने वाली सुमन अपने मूल जिले में ही काम करेंगी। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, सुमन ने हैदराबाद से एलएलबी की परीक्षा पास की और कराची के स्जबिस्ट विश्वविद्यालय से लॉ में मास्टर्स किया।

उनके पिता पवन कुमार बोडान ने बताया कि सुमन, कामबार-शाहदकोट में गरीबों को मुफ्त कानूनी सहायता प्रदान करना चाहती हैं। उन्होंने कहा, ‘ सुमन ने एक चुनौतीपूर्ण पेशे को चुना है लेकिन मुझे यकीन है कि वह कड़ी मेहनत और ईमानदारी से काम करेंगी।’ पिता हैं आई स्पेशलिस्ट: सुमन के पिता एक आई स्पेशलिस्ट हैं जबकि सुमन की बड़ी बहन सॉफ्टवेयर इंजीनियर और दूसरी बहन चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुमन गायक लता मंगेशकर और आतिफ असलम की फैन हैं।

हालांकि, यह पहली बार नहीं है कि पाकिस्तान में हिंदू समुदाय के किसी व्यक्ति को जज के रूप में नियुक्त किया गया है। हिंदू समुदाय के पहले न्यायाधीश जस्टिस राणा भगवानदास थे। उन्होंने 2005 से 2007 के बीच कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश के रूप में काम किया था। बता दें कि पाकिस्तान की कुल आबादी में हिंदू लगभग 2 प्रतिशत हैं और इस्लाम के बाद वहां हिंदू धर्म पाकिस्तान में दूसरा सबसे बड़ा धर्म है।

From around the web