अपनी ही बेटी को छोटे कपड़े पहनने पर वेश्या समझते थे मां-बाप, कर दी हत्या

 
अपनी ही बेटी को छोटे कपड़े पहनने पर वेश्या समझते थे मां-बाप, कर दी हत्या17 साल की शैफिला अहमद को उसी के मां-बाप ने बड़ी निर्ममता से मार डाला। अपनी ही औलाद को इस दंपति ने इसलिए मौत के घाट उतार दिया क्योंकि उन्हें अपनी बेटी का रहन-सहन पसंद नहीं था।

दंपति को लगता था कि शैफिला छोटे कपड़े पहनकर गलत धंधा करने लगी है। वेश्यावृती करने के शक में उसी के मां-बाप ने उसे रात को मौत की नींद सुला दिया।

दंपति ने अपनी बेटी को सोफे पर गिराकर उसके मुंह में प्लास्टिक बैग ढूस दिया, और तब तक मुंह दबाए रखा जब तक कि उसका दम नहीं घुट गया। ये घटना 2003 की है।
अपनी ही बेटी को छोटे कपड़े पहनने पर वेश्या समझते थे मां-बाप, कर दी हत्या
इसके बाद उसके पिता इफ्तिखार अहमद ने उसके शव को अपनी कार के पीछे रखा और वारंट्टन के अपने घर से 70 मील दूर फेंक दिया। अगले दिन जब पुलिस हरकत में आई तो उसके माता-पिता ने कहा कि वह भाग गई है।
वहीं अब घटना की सच्चाई सामने आई है। इस घटना पर किशोरी के करीबी दोस्तों में से एक, शानिन मुनीर ने उसकी मौत से पहले उसके साथ हुए दुर्व्यवहार की बात बताई है। जिसमें लड़की ने अपने मां-बाप द्वारा उसे धमकाए जाने की बात कही थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शैफिला के दोस्त ने बताया कि शैफिला के मां-बाप उसे वेश्या कहते और उसे मार डालने की धमकी दिया करते थे, शैफिला के दोस्त के मुताबिक वो कई बार अपने मां-बाप की प्रताड़ना का शिकार हुई थी। जिसके चलते वो घर से भाग जाना चाहती थी। शैफिल्या फरजाना और इफ्तिखार अहमद की सबसे बड़ी संतान थी। 

From around the web