7 साल की उम्र में इस लड़की ने करवाई ब्रेस्ट इम्प्लांट सर्जरी...

 
7 साल की उम्र में इस लड़की ने करवाई ब्रेस्ट इम्प्लांट सर्जरी...बच्चे बिल्कुल मासूम होते हैं, उन्हें सही गलत के बीच कोई अंतर पता नहीं होता है। परिस्थितियों को समझना उनके बस की बात नहीं होती इसलिए कभी कभार वे ऐसी जिद पकड़ लेते हैं जिन्हें किसी मां-बाप के लिए पूरा करना संभव नहीं होता है।

कुछ बच्चे तो इस कदर नासमझ होते हैं कि उन्हें समझाना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे बच्चे हर हाल में अपनी जिद पूरी करवाकर छोड़ते हैं। आज हम आपको एक ऐसी ही बच्ची के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी अजीबोगरीब इच्छा ने सभी को अचंभित कर दिया है।

कैलीफोर्निया की रहने वाली इस मासूम सी बच्ची का नाम जूलिएट मैन्सन है और वह महज सात साल की है। हर एक बच्चे की तरह जूलिएट को भी क्रिसमस के त्यौहार का बड़ी ही बेसब्री से इंतजार था।इस दौरान गिफ्ट के रूप में उसने अपने माता-पिता से एक ऐसी चीज मांगी जिसे सुनकर जूलिएट के घरवाले हैरान रह गए।

7 साल की जूलिएट को किसी ड्रेस या खिलौने की चाह नहीं थी बल्कि वह ब्रेस्ट इम्प्लांट के जरिए अपने स्तनों को बड़ा करवाना चाहती थी। जूलिएट की मां ने उसने समझाने का बहुत प्रयास किया,लेकिन उसने एक नहीं सुनी। उसे कैसे भी करके अपने स्तनों को बड़ा करना था। बेटी की इस अजीब जिद को देखते हुए उसकी मां डैना मैन्सन उसे एक मनोवैज्ञानिक के पास लेकर गई।

परीक्षण करने के बाद साइकियाट्रिस्ट ने डैना से कहा कि जूलिएट डिप्रेशन की शिकार है जिसके चलते उसमें आत्मविश्वास की भी बहुत कमी है। ऐसे में उसे ठीक करने का केवल एक ही रास्ता है और वह है उसे ब्रेस्ट इम्प्लांट की रजामंदी देना।

थक-हारकर डैना अपनी बेटी को स्वस्थ करने के लिए अमरीका और मेक्सिको के कई क्लिनिकों से संपर्क करती है। जहां भी बात होती सभी मना कर देते क्योंकि 7 साल की बच्ची के साथ ऐसा करना किसी को भी रास नहीं आया। अंत में चीन के एक प्लास्टिक सर्जरी क्लीनिक ने डैना को आपरेशन के लिए हरी झंडी दी जिसके बाद वह अपने बेटी के साथ चाइना के लिए रवाना हो गई।

करीब दो घंटे की सर्जरी के बाद डॉक्टर्स ब्रेस्ट इम्प्लांट करने में सफल रहें। जूलिएट के कप साइज अभी 30c है। देखने में वह बच्ची भले ही अजीब लगती है, लेकिन उसे किसी बात की परवाह नहीं है बल्कि वह अभी काफी खुश है। जूलिएट की इस इच्छा को पूरी करने के चलते उसके माता-पिता को लोग खरी खोटी सुना रहे हैं, लेकिन डैना का कहना है कि उसके पास इसके अलावा कोई और चारा नहीं था।

From around the web