दिन में सिर्फ 2 घंटे दिखाई देती है ये सड़क, फिर हो जाती है गायब!

 
दिन में सिर्फ 2 घंटे दिखाई देती है ये सड़क, फिर हो जाती है गायब!
नई दिल्ली। दुनिया का हर देश सडक़ों से जुड़ा हुआ है। एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए सडक़ ही एकमात्र सहारा है। अगर आपको किसी ऐसी सडक़ के बारे में बताए जो सिर्फ दो घंटे ही नजर आती है तो क्या विश्वास करेंगे। आप मानो या ना मानो, लेकिन ये सच है एक सडक़ ऐसी भी है जो दिन में दो बार मात्र दो घंटे ही दिखाई देती है।

आपको बता दें कि इस सडक़ के चारों और पानी है। ये सडक़ मेनलैंड को नोइरमौटीयर आइलैंड से जोड़ती है। ये सडक़ 4.5 किमी लंबी है, इस सडक़ को पैसेज डू गोइस भी कहा जाता है, जिसका मतलब जूते गीले करते हुए सडक़ पार करना है। कहा जाता है कि इस सडक़ को पार कर पाना काफी मुश्किल होता है।

आप सोच रहे होंगे की बाकी दिन ये सडक़ क्यों दिखाई नहीं देती हैं, तो आपको बता दें कि बाकी दिन ये सडक़ पानी में डूबी रहती है और किसी को दिखाई नहीं देती है।

इस सडक़ को पहली बार 1701 में मैप के जरिए दिखाया गया था। दिन में 2 बार एक या दो घंटे तक सडक़ साफ रहने के बाद अचानक दोनों किनारों से पानी आना शुरू होता है और देखते ही देखते यह समुद्र से ढक जाती है।

इस सड़क की गहराई 1.3 से 4 मीटर तक भी हो जाती है जिसकी वजह से बाहर से आने वाले कई लोग जो इसके बारे में नहीं जानते हैं यहां आकर हादसे का शिकार हो जाते हैं।

हैरानी की बात तो ये है कि साल 1986 के बाद से यहां अनोखी रेस आयोजित की जाती है। पहले तो यहां लोग बोट से ही आते-जाते थे लेकिन बाद में यहां पर पक्की सडक़ बनाई गई। सडक़ बनने के बाद यहां लोग कार और घोड़े से भी आने-जाने लगे।

From around the web