इकबाल अंसारी व हाजी महबूब के ऊपर देशद्राेह का मामला दर्ज हो: परमहंस दास

 
इकबाल अंसारी व हाजी महबूब के ऊपर देशद्राेह का मामला दर्ज हो: परमहंस दास
राकेश पाण्डेय
लखनऊ/अयाेध्या। बाबरी एक्शन कमेटी के मुख्य मुद्दई इकबाल अंसारी व बाबरी पक्षकार हाजी महबूब के ऊपर देशद्राेह का मुकदमा दर्ज कराने के लिए तपस्वी छावनी महन्त परम हंसदास ने रामजन्म भूमि थाने में को तहरीर दी है। मुकदमा दर्ज कराने के लिए उन्होंने एक निजी न्यूज चैनल द्वारा किए गए स्टिंग आपरेशन की वीडियो क्लीपिंग काे आधार बनाया है।

इससे पहले महन्त ने विगत 03 अक्टूबर को हाजी महबूब के खिलाफ एक तहरीर अयाेध्या काेतवाल के माध्यम से रामजन्मभूमि थाने काे दिया था। लेकिन उस पर काेई कार्यवाई नही की गई, जिससे वह बहुत ही आहत हाेकर अन्न-जल त्याग कर आमरण-अनशन पर बैठ गए हैं। उनका आराेप है कि मुकदमा न दर्ज कर प्रशासन इस मामले में हीलाहवाली कर रहा है।

इसकाे लेकर उन्होंने रविवार को पुन: एक तहरीर अपने आश्रम पर रामजन्मभूमि थानाध्यक्ष काे दी। इस बार तहरीर में हाजी महबूब के साथ-साथ बाबरी मस्जिद के मुद्दई इकबाल अंसारी का भी नाम शामिल है।

परमहंसदास ने कहा कि जब तक इकबाल अंसारी और हाजी महबूब के ऊपर देशद्राेह का मुकदमा नहीं दर्ज हाे जाता है तब तक उनका संकल्प है कि वह अन्न-जल का त्याग कर अपने आश्रम के बाहर आमरण-अनशन पर बैठे रहेंगे।

महंत ने कहा ​कि हाजी महबूब वीडियो क्लीपिंग में भड़काऊ भाषण देते हुए दिखाई पड़ रहे हैं। वहीं दूसरी इकबाल अंसारी धमकी देते हुए कह रहे हैं कि यदि सुप्रीम काेर्ट की तरफ से हिन्दुओं के पक्ष में फैसला आया ताे वह उस फैसले काे वह कदापि नही मानेंगे। इससे साफ जाहिर हाेता है कि बाबरी पक्षकार रामजन्मभूमि मामले काे विवादित बनाए रखना चाहते हैं। बाबरी पक्षकाराें की नीयत इससे उजागर हो गई है। भारतीय संविधान पर उन्हें काेई आस्था और विश्वास नहीं रह गया है।

महन्त ने कहा कि जब बाबरी पक्षकार देश की सर्वाेच्च अदालत काे चैलेंज देकर उसकी अवमानना कर रहे हैं। यहां तक कि वह काेर्ट काे चुनाैती देते कह रहे हैं कि यदि फैसला राममन्दिर के पक्ष में आया। ताे वह वहां पर एक भी ईंट नही रखने देंगे। इससे मैं बहुत ही आहत हूं। जहां देश का बहुसंख्यक समाज कह रहा मन्दिर-मस्जिद मामले में सर्वाेच्च न्यायालय की तरफ से जाे भी फैसला आएगा उसकाे वह स्वीकार करेंगे, वहीं बाबरी पक्षकार अदालत काे चुनाैती दे रहें हैं। जांच कराकर इन लाेगाें के ऊपर अविलम्ब राष्ट्रदाेह का मुकदमा दर्ज किया जाना चाहिए।

रामजन्मभूमि थानाध्यक्ष ने कहा कि उन्हें इस मामले में एक तहरीर मिली है। वीडियाे क्लीपिंग की जांच की जा रही हैं। जांच के बाद ही काेई प्रक्रिया आगे बढ़ेगी।

From around the web