केजरीवाल को नहीं मिली जनसभा की इजाजत

 
केजरीवाल को नहीं मिली जनसभा की इजाजतलोकसभा चुनाव से पहले देश का राजनीतिक माहौल गरमा गया है। जनसभा के आयोजन से ज्यादा उनके कैंसिल पर राजनीति गरमाई हुई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को भाजपा पर आरोप लगाया कि उसने उनकी रैली रद्द करवा दी। इसके साथ ही उन्होंने पूछा कि बीते पांच वर्षो में भाजपा की कितनी रैलियां रद्द की गई हैं।

केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, भाजपा ने पुलिस के जरिए आज मेरी रैली रद्द करवा दी। पुलिस ने इसकी इजाजत नहीं दी। बीते पांच वर्षो में भाजपा की कितनी रैलियों को पुलिस ने इजाजत नहीं दी है  आम आदमी पार्टी (आप) प्रमुख ने यह भी कहा कि भाजपा को यह स्वीकार लेना चाहिए कि वह दिल्ली में सातों सीटें हारेगी। केजरीवाल ने कहा, मोदी पूर्ण राज्य के दर्जे के अपने वादे को भूल गए। अब लोग उनको जवाब देंगे। आप के अनुसार, केजरीवाल शनिवार को शकूरबस्ती में एक रैली को संबोधित करने वाले थे। पुलिस ने इसकी इजाजत नहीं दी। हालांकि वह तिमारपुर में शनिवार को ही प्रस्तावित एक अन्य रैली को संबोधित करेंगे।

आज प्रेस कांफ्रेंस में संजय सिंह ने कहा कि शनिवार को दिल्ली के शकूरबस्ती इलाके में अरविंद केजरीवाल एक जनसभा करनेवाले थे। उनके मुताबिक, सारी परमिशन के लिए दिल्ली पुलिस से पहले ही बात कर ली गई थी लेकिन शनिवार को आखिरी वक्त में उन्होंने इजाजत देने से मना कर दिया। इसपर संजय सिंह ने कहा कि चुनाव का परिणाम आने से पहले ही बीजेपी हार मान चुकी है। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली पुलिस की देखरेख में राजधानी में निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकते। संजय सिंह ने आगे कहा कि मोदी अगर इतने डरे हुए हैं तो चुनाव क्यों करवा रहे हैं।

From around the web