कांग्रेस पर बरसीं मायावती, बोलीं- BJP ने भी दिखाए थे ऐसे लुभावने सपने

 
कांग्रेस पर बरसीं मायावती, बोलीं- BJP ने भी दिखाए थे ऐसे लुभावने सपनेलखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कांग्रेस पर निषाना साधा। इसी के साथ मायावती ने भाजपा को भी कटघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी की ओर से जो लुभावनी घोषणा हुई है उससे पूरा देश चकित है। कांग्रेस ने कहा है कि सत्ता में आये तो देश में ग़रीबी व भूखमरी का अन्त करने के लिये न्यूनतम आय की गारण्टी सुनिश्चित करेंगे।

मायावती ने कहा कि इससे हर आदमी पर आशंकित है कि कहीं यह भी उनके साथ वैसा ही छलावा व क्रूर मजाक तो नहीं है जैसा भाजपा ने किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने जारी एक बयान में कहा है कि केन्द्र की बहुमत वाली बीजेपी सरकार का विदेश से काला धन वापस लाकर देश के हर गरीब को 15 से 20 लाख रूपये देकर उनके ’’अच्छे दिन’’ लाने का लोक-लुभावन वायदा पूरी तरह से छलावा व वादाखिलाफी ही साबित हुआ है।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गाँधी की कल इस सम्बन्ध में की गई घोषणा के सम्बंध में अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये बसपा सुप्रीमो ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के प्रमुख को ऐसी कोई भी घोषणा को कांग्रेस-शासित राज्यों में से खासकर राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश व छत्तीसगढ़ आदि में सही से लागू करके दिखाना चाहिये। ऐसा करने से लोगों में मन विष्वास जागेगा कि यह छलावा नहीं है।

मायावती ने कहा कि वैसे भी विश्वसनीयता के मामले में कांग्रेस व बीजेपी दोनों ही सरकारों का रिकार्ड ऐसा अच्छा नहीं रहा है कि जनता इन पर आसानी से विश्वास कर ले। खासकर चुनावी वायदे व घोषणा-पत्र आदि पर तो लोगों को बिल्कुल भी भरोसा नहीं रहा हैं। इस सम्बंध में कुछ फैसले अगर लागू भी हुये तो वे केवल दिखावटी ही साबित हुये हैं, जो कि जग-जाहिर है।

उन्होंने कहा कि इन्दिरा गाँधी की सरकार का बहुचर्चित ’’गरीबी हटाओ’’ के नारे व घोषणा एवं कार्यक्रमों आदि का क्या नतीजा निकला, यह उदाहरण भी लोगों के सामने है। कांग्रेस व बीजेपी सरकारों में ही किसानों की दुर्दषा हुई है।

From around the web