मायावती ने दिया कांग्रेस को झटका, 7 सीटें की वापस

 
मायावती ने दिया कांग्रेस को झटका, 7 सीटें की वापस कांग्रेस को एक बार फिर से बड़ा झटका लगा है। दरअसल, बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने साफ तौर से कांग्रेस के साथ किसी भी तरह का गठबंधन करने से इनकार कर दिया है। इसी के साथ उन्होंने साफ कर दिया कि देशभर में कांग्रेस को हमारा साथ नहीं मिलेगा। बता दें कि कांग्रेस ने बीते दिनों महासचिव प्रियंका गांधी के प्रस्ताव पर उत्तर प्रदेश में 7 सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारने का फैसला लिया था।
कांग्रेस ने कहा था कि हम उन सात सीटों पर अपने उम्मीदवार नहीं उतारेंगे, जहां से महागठबंधन में शामिल सपा-बसपा और रालोद का शीर्ष नेतृत्व चुनाव लड़ेगा। लेकिन मायावती ने सोमवार को तंज कसते हुए कांग्रेस को कहा कि आप उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने के लिए स्वंतत्र हैं। साथ ही मायावती ने कांग्रेस को कहा कि यूपी में हमने जो महागठबंधन बनाया है, वह भारतीय जनता पार्टी को हराने में सक्षम है। मायावती का बयान ऐसे समय में आया है जब प्रियंका गांधी प्रयागराज से वाराणसी तक की यात्रा पर हैं और प्रदेश कांग्रेस में जान फूंकने का प्रयास कर रही हैं। इसी बीच मायावती ने कहा कि अगर कांग्रेस को लगता है कि हमारे साथ उनका कुछ हो सकता है तो वह गलत सोच रहे हैं। कांग्रेस किसी भी प्रकार का भ्रम नहीं फैलाए। उल्लेखनीय है कि बसपा प्रमुख ने पहले ही कांग्रेस के साथ गठबंधन करने से इनकार कर दिया था। हालांकि, समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश कांग्रेस के प्रति नरम रुख बनाए हुए थे। बताया जा रहा है कि मायावती कांग्रेस से इसलिए भी नाराज हैं क्योंकि कांग्रेस के अधिक्तर उम्मीदवार वह लोग बन रहे हैं जिनको बसपा ने टिकट देने से मना कर दिया था।  मायावती ने कहा कि सपा और बसपा का गठबंधन उत्तर प्रदेश में बीजेपी को हराने के लिए काफी हैं। इसी के साथ उन्होंने कांग्रेस को अपने पूरे उम्मीदवार उतारने की हिदायत भी दी। बता दें कि सपा-बसपा ने पहले फैसला लिया था कि वह रायबरेली और अमेठी में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी लेकिन प्रियंका गांधी द्वारा भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर से अनौपचारिक मुलाकात के बाद मायावती ने स्पष्ट कर दिया कि वह इन सीटों पर अपने उम्मीदवारों को उतारेगी।

From around the web