कर्जमाफी नहीं, किसानों को 'कर्ज मुक्त' करना चाहती है शिवसेना: उद्धव ठाकरे

 
कर्जमाफी नहीं, किसानों को 'कर्ज मुक्त' करना चाहती है शिवसेना: उद्धव ठाकरेशिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र में फिर से भाजपा-शिवसेना गठबंधन के सत्ता में आने का भरोसा जताते हुए शुक्रवार को कहा कि उनकी पार्टी किसानों को कर्ज मुक्त करना चाहती है। ठाकरे ने यहां पार्टी उम्मीदवारों के समर्थन में एक चुनाव रैली को संबोधित करते हुए यह कहा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिये शिवसेना का घोषणापत्र शनिवार को जारी किया जाएगा। उन्होंने कहा, शिवसेना का लक्ष्य किसानों को कर्ज माफी देने के बजाय उन्हें कर्ज मुक्त करना है।

शिवसेना प्रमुख ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ की सराहना करते हुए अत्यधिक गरीब तबके के लोगों को प्रत्येक वर्ष छह गैस सिलेंडर मुफ्त मुहैया करने के लिए कोशिश करने की भी बात कही। उन्होंने ग्रामीण इलाकों में गरीबों को 10 रुपये मे पूरा भोजन उपलब्ध कराने और एक रुपये में प्राथमिक स्वास्थ्य जांच का भी वादा किया।

ठाकरे ने 21 अक्टूबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव के नतीजों के बारे में बात करते हुए कहा, ...मैं पहले ही मैच जीत चुका हूं। उन्होंने इस साल हुए आम चुनाव में अमरावती लोकसभा सीट पर शिवसेना उम्मीदवार आनंदराव अडसूल को शिकस्त मिलने का जिक्र करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से यह सुनिश्चित करने को कहा कि विधानसभा चुनाव में इसका दोहराव नहीं हो। उन्होंने चेतावनी दी कि विश्वासघात को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

ठाकरे ने दो बार निर्दलीय विधायक चुने गये रवि राणा की आलोचना की कि वह कांग्रेस और राकांपा के समर्थन से बादनेरा से फिर से चुनाव जीतने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘वह पैसों के बल पर विधायक बनने का सपना देख रहे हैं।

From around the web