पंचायत चुनाव: ग्रामीण इलाकों में उत्साही वोटरों ने की जमकर वोटिंग

 
पंचायत चुनाव: ग्रामीण इलाकों में उत्साही वोटरों ने की जमकर वोटिंग
जसपुर। पंचायत चुनाव में ग्रामीण क्षेत्रों ग्रामीणों ने जमकर वोटिंग की। लोगों के अति उत्साह के चलते समयावधि के बाद भी कई बूथों पर मतदान होता रहा। देर रात तक पोलिंग पार्टी मतपेटियॉ लेकर रवाना हुई।  मतदान को लेकर पूरे दिन लोगों में चर्चायें होती रही।

शुक्रवार को सुबह से ही ग्रामीण क्षेत्र के ६८ मतदान केंद्रों के १५७ पोलिंग बूथों के बाहर महिला एवं पुरूषों की लाइनें लग गई। वोटर बूथों पर पानी आदि की सुविधा न होने पर भी वोटर लाइनों में लगकर अपनी बारी का इंतजार करते रहे। शुरूआती दौर में तो मतदान धीरे हुआ। दोपहर बाद लगातार वोटिंग प्रतिशत बढ़ता रहा। दो बजे तक ५३ तो चार बजे ६९ प्रतिशत लोगों ने मतदान किया। इसी बीच विधायक आदेश चैहान ने ग्राम निवारमंडी में अपने बूथ पर लाइन में लगकर वोट डाला।

वहीं, ग्रामीण क्षेत्रों में कई मतदान केंद्रों में समय समाप्त होने के बाद भी मतदाता वोट डालने को केंद्र के अंदर रहे। उन्होंने रात तक वोट डाले। पोलिंग को लेकर मतदाताओं ने बताया कि पांच साल में एक बार वोट डालने का नंबर आता है। इसे वह गंवाना नहीं चाहते है। पूरे दिन प्रत्याशियों के समर्थक अन्य लोगों से अपने प्रत्याशी की हारजीत को लेकर बहस करते देखे गये। लेकिन कही से भी मारपीट की खबरें नहीं आई। अलबत्ता कई जगह झड़पें जरूर हुई।

डीएम,एसएसपी ने लिया बूथों का जायजा
जसपुर। डीएम डा. नीरज खैरवाल एवं एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने ग्रामीण इलाकों में जाकर बूथों को देखा। तथा व्यवस्थओं को जांचा।

शुक्रवार को पालिंग शुरू होने के बाद डीएम एवं एसएसपी पूरे लाव लस्कर के साथ नादेही क्षेत्र के कई बूथों पर पहुंच गए। उन्होंने वहां पर मतदाताओं ने बातचीत की। साथ ही बूथों पर काम करने वाले अधिकारियों से जानकारी लेकर दिशा निर्देश दिए। एसएसपी ने पुलिस व्यवस्था को लेकर अफसरों को निर्देश दिए। मौके पर एएसपी डा. जगदीश चन्द्र, एसडीएम सुंदर सिंह, सीओ मनोज ठाकुर, कोतवाल उमेद सिंह दानू, एसएसआई ललित जोशी आदि मौजूद रहे।

पतरामपुर,नारायणपुर में रात तक हुआ पोलिंग 
ग्राम पतरामपुर एवं नारायाणपुर में रात तक पोलिंग होता रहा। पतरामपुर मतदान केंद्र पर एएसपी मुस्तैदी से डटे रहे। पतरामपुर स्थित जुनियर हाईस्कूल में कई बूथ बनाये गए है। उनके एक बूथ पर मतदाताओं की संख्या अधिक होने के कारण देर तक मतदान चलता रहा। एएसपी डा. जगदीश चन्द्र ने बताया कि सात बजे तक करीब सत्तर मतदाता बूथ के बाहर थे। वहीं,ग्राम नारायणपुर में भी मतदाता रात तक मतदान करते रहे।

मतदान केंद्रों पर नहीं मिली बीएलओ
बूथ पर वोटरों को कोई दिक्कत न हो, प्रत्येक बूथ पर बीएलओ को बैठाया गया था। लेकिन किसी भीातदान केंद्र पर बीएलओ नहीं दिखाई दी। इससे लोग परेशान रहे।

गर्भवती, नेत्रहीन, दिव्यागों के लिए नहीं थी व्यवस्था
पोलिंग बूथ पर दिव्यांग, बुजुर्ग, बीमार एवं गर्भवती महिला मतदाता के लिए अतिरिक्त कक्ष खोलने एवं गर्भवती महिला मतदाता के बैठने लिए दरी कुर्सी की व्यवस्था के निर्देश दिए गए थे। लेकिन कही भी यह व्यवस्था नहीं दिखाई दी।वहीं, ग्राम पतरामपुर में हरकेश सिंह पक्षाघात होने पर अपने परिजनों के साथ वोट डालने पहुंचे। ग्राम गढ़ी हुसैन में दिव्यांग रवि कुमार ने स्वयं ही वोट डाला।

90 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग वोट डालने पहुंचे

ग्राम जगतपुर पट्टी में पूर्व प्रधान रहे गुरदयाल सिंह एवं विक्रम सिंह नव्वे साल से अधिक की उम्र के है। वह अपने बूथ पर वोट डालने पहुंचे। वोट डालते समय उनके गजब का उत्साह था। 

From around the web