यहां 4 दिन बाद दहन हुआ रावण

 
यहां 4 दिन बाद दहन हुआ रावणजसपुर। ग्राम हल्दुआ शाहू में रावण का दहन चार दिन बाद हो सका। इसकी वजह यह रही कि दश्हरा पर गांव में किसी परिवार में अनहोनी होने से गमजदा लोगों ने रावण का दहन नहीं किया। लगातार दो दिन बारिश के कारण रामलीला मंचन बाधित हुआ तो पंचायत चुनाव के बीच में आने लंकेश का दहन टलता रहा।

शनिवार को ग्रामीणों ने आपसी सोहार्द के बीच पवे मनाकर देर शाम लंकापति को जलाया। इस बीच जय श्री राम के जयकारों से गांव गूंज उठा। लोग लंकेश की अस्थियॉ घरों को ले गए। 


ग्राम हल्दुआ शाहू में विधायक आदेश चैहान ने रामलीला का शुभारंभ किया था। इस रामलीला को पंजाबी समाज के लोग मिल जुलकर कराते है। मंचन के दौरान दशहरा पर्व आने पर ग्रामीणों ने रावण का पुतला तैयार कर लिया। बताते है कि आठ अक्तूबर को दशहरे के दिन गांव में किसी परिवार में अनहोनी होने पर ग्रामीणों ने न केवल पर्व मनाया बल्कि रावण का भी दहन नहीं किया।

अगले दो दिन बारिश के कारण रामलीला का मंचन नहीं हो सका। तथा दस एवं ११ अक्तूबर को चुनाव के लिए आई पोलिंग पार्टी ने स्कूल का ग्राउंड घेर लिया। इस कारण से लंकापति का दहन लटक गया। शुक्रवार को चुनाव सम्पन्न होने के बाद शनिवार को गांव के प्राथमिक विधालय के मैदान में मेला लगाया गया। मेले में महिला पुरूषों ने खरीददारी की। तथा जमकर लुत्फ उठाया। शाम को राम एवं लक्ष्मण का रूप धरे युवकों ने अपने बाणों से लकेंश का पुतला जला दिया। 

रामलीला कमेटी के अध्यक्ष विजय रहेजा, राजकुमार बठला ने बताया की रामलीला पिछले  ५५ वर्षों से निरंतर अपना सफल मंचन करती आ रही है।इस दौरान रामलीला एवं अखाड़ा कमेटी के उस्तादों को भी सम्मानित किया गया। यहॉ थाना अध्यक्ष कुंडा राजेश यादव,एसआई सीमा कोहली, सपा प्रदेश अध्यक्ष रवि छाबड़ा, संदीप जुनेजा, मोंटी रहेजा, अमित नारंग, रविंद्र शर्मा बॉबी नारंग, दीपक रहेजा, सुनील नारंग, नरेश खुराना, सचिन खुराना आदि मौजूद रहे।

From around the web