माननीयों के लिए कड़ा प्रावधान तय करेंगी स्पीकर, आपत्तिजनक व्यवहार से ऊबी

 
माननीयों के लिए कड़ा प्रावधान तय करेंगी स्पीकर, आपत्तिजनक व्यवहार से ऊबीनई दिल्ली। माननीयों के हंगामे के कारण शीत सत्र में कामकाज लगातार ठप रहने ने आखिरकार स्पीकर सुमित्रा महाजन के सब्र का बांध तोड़ दिया। कार्यवाही के दौरान प्ले कार्ड्स दिखाने, वेल में आ कर हंगामा करने, कागज फाडऩे जैसे मुद्दे पर रोक पर विभिन्न दलों के नेताओं का ठोस आश्वासन न मिलने के बाद उन्होंने शुक्रवार को लोकसभा की अपनी ही अध्यक्षता वाली 17 सदस्यीय रूल्स कमेटी की बैठक बुलाई है। उन्होंने इस बैठक में ऐसे सांसदों की जवाबदेही सुनिश्चित कराने केलिए पुराने नियमों में बदलाव ला कर कुछ कड़े प्रावधान लाने का ठोस संदेश दिया है। बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि बीते करीब एक दशक में इस मुद्दे पर किसी स्पीकर ने रूल्स कमेटी की बैठक नहीं बुलाई है।
सूत्रों ने बताया कि गुरूवार को कार्रवाई शुरू होने से पूर्व सांसदों केव्यवहार से आहत स्पीकर ने विभिन्न दलों केनेताओं की बैठक बुलाई। इस बैठक में उन्होंने साफ कर दिया कि वह नियम के विपरीत सदन नहीं चला सकती। इस दौरान उन्होंने साफ साफ कहा कि नियमों के विपरीत प्ले कार्ड्स लहराना, कागज फाडऩा, स्पीकर केटेबल के पास चिल्लाना वह किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगी। बताते हैं कि इस दौरान उन्हें विभिन्न दलों से नियमों केविपरीत हंगामा न करने का ठोस आश्वासन नहीं मिला। इससे नाराज स्पीकर ने रूल्स कमेटी की बैठक बुला कर ऐसे सांसदों केलिए कड़े प्रावधान तय करने की साफ चेतावनी दी। उन्होंने बैठक में दो टूक शब्दोंं में कहा कि वह सदन को नियमों केतहत ही चलाएंगी।
गौरतलब है कि इससे पहले स्पीकर सांसदों के व्यवहार पर कई बार आपत्ति जता चुकी हैं। दो दिन पूर्व उन्होंने ऐसे सांसदों केस्कूली बच्चों से भी बदतर बताया था। इसके एक दिन बाद डीएमके केएक सांसद ने राइटर्स टेबल पर कागजात फाड़ कर उछाले तो कई सांसद न तो प्ले कार्डïस लहराने से बाज आए और न ही नारेबाजी से। सांसदों के हंगामे के कारण संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही बीते सात दिनों से लगातार ठप है।
ये हुए बैठक में शामिल
कांग्रेस के मल्लिाकर्जुन खडग़े, केसी वेणुगोपाल, डीएमके केथंबी दुरई, बीजेपी के भर्तृहरि महताब, एनसीपी की सुप्रीया सुले, धनंजय महाडिक, टीएमसी के सुदीप बंदोपाध्याय, शिवसेना के जी कीर्तिकर, भाजपा के अनुराग ङ्क्षसह ठाकुर, माकपा के मोहम्मद सलीम और सरकार की ओर से मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और अर्जुनराम मेघवाल।
ये हैं रूल्स कमेटी के सदस्य
शशि थरूर, नेपाल सिंह, उदित राज, निशिकांत दुबे, रमेश चंद्र कौशिक, भर्तृहरि मेहताब, सौगत राय, विशेष आमंत्रित सदस्य नरेंद्र सिंह तोमर, अर्जुन मेघवाल और विजय गोयल

From around the web