जिस आशिक के लिए घर-बार छोड़ आई युवती, वही निकला धोखेबाज़, किया ऐसा...

 
जिस आशिक के लिए घर-बार छोड़ आई युवती, वही निकला धोखेबाज़, किया ऐसा...चंडीगढ़। तीन दिन पहले एक महिला का शव मिला था। इसकी गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। इसके पीछे एक खौफनाक कहानी समाने आई है। मामला चंडीगढ़ के मनीमाजरा का है। यहां के शांति नगर की गली नंबर 8 सी के एक मकान से 30 वर्षीय महिला का शव मिला था। दरअसल, महिला अपने प्रेमी संग यूपी से भागकर यहां आई थी और प्रेमी महिला की हत्या कर फरार हो गया था।

पुलिस ने मृतका के प्रेमी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतका की पहचान यूपी के भागत के गांव हिलवाडी की दीपा उर्फ अंजलि के रूप में हुई।

वहीं आरोपी की पहचान हिलवाडी के अर्जुन उर्फ बारू के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए एक टीम को यूपी रवाना कर दिया है जो छापेमारी कर रही है।

पुलिस को कमरे से कुछ कागजात मिले जिसके बाद वह आरोपी अर्जुन के गांव तक पहुंची। अर्जुन के बारे में पता लगते ही एक टीम बुधवार को यूपी रवाना की गई जहां पुलिस ने दीपा के पिता कृष्ण पाल को फोटो दिखाकर उसकी शिनाख्त की। इसके बाद पुलिस ने कृष्णपाल के बयान पर आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार मृतका के पिता ने बताया कि आरोपी उनके गांव में ही रहता था। दीपा की शादी एक युवक के साथ हो गई। शादी के बाद भी आरोपी अकसर उसकी बेटी के पीछे पड़ा रहता था। वह किसी तरह दीपा को बहला-फुसलाकर जनवरी में घर से भाग ले आया। इसकी शिकायत पुलिस को भी दी थी।


पुलिस को मकान मालिक और आसपास के लोगों के बयान से पता चला कि जब से दोनों कमरे में रहने आए थे तब से दोनों में किसी न किसी बात को लेकर झगड़ा होता रहता था, लेकिन आरोपी अर्जुन ने दीपा को कैसे और क्यों मारा, यह उसकी गिरफ्तारी के बाद ही पता चल पाएगा।

From around the web