दिल्ली में रेस्त्रां में रसोई की सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट की सफाई करते वक्त दो कर्मियों की मौत

 
दिल्ली में रेस्त्रां में रसोई की सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट की सफाई करते वक्त दो कर्मियों की मौत
पश्चिमी दिल्ली के रेस्त्रां की रसोई की सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट में शनिवार को सफाई करने उतरे दो कर्मियों की कथित तौर पर जहरीली गैस से दम घुटने के कारण मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि यह घटना पश्चिमी दिल्ली के राजौरी गार्डन के 'पाइरेट्स ऑफ ग्रिल' रेस्त्रां में हुई। 

पुलिस ने बताया रेस्त्रां के दो सफाईकर्मी राकेश (45) एवं अजय (19) की मौत हो गई जबकि उनके दो साथी - पंकज एवं राजू अस्पताल में भर्ती हैं। पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) मोनिका भारद्वाज ने बताया, यह घटना दोपहर डेढ़ से दो बजे के बीच हुई। प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि वे सफाई के लिए रसोई के सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट में घुसे थे। उन्होंने बताया कि उन्हें पास के दो अस्पतालों में ले जाया गया जहां राकेश और अजय को मृत घोषित कर दिया गया जबकि पंकज और राजू का इलाज चल रहा है। 

राकेश, अजय और पंकज उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे जबकि राजू बिहार का निवासी है। उन्होंने बताया, राजौरी गार्डन पुलिस थाने में रेस्त्रां प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच जारी है। दिल्ली जल बोर्ड की ओर से जारी बयान में कहा गया, ''यह बेहद त्रासद घटना है और इसे लेकर हमें बहुत दुख है। हालांकि दिल्ली जल बोर्ड का इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है और न ही उक्त सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट की सफाई दिल्ली जल बोर्ड या उसके कर्मचारी करते हैं। निजी तौर पर इसे मालिक द्वारा करवाया जाता है।

नगर निगम के एक अधिकारी ने दावा किया, ''सीवेज ट्रीटमेंट यूनिट के निर्बाध संचालन के लिये डीपीसीसी के नियमों के अनुपालन में इसकी जांच के बाद रेस्त्रां को स्वास्थ्य लाइसेंस जारी किया गया था। इसलिए इस मामले में नियम का कोई उल्लंघन नहीं हुआ है। यह लाइसेंस 31 मार्च तक वैध था।

From around the web