भारतीय बाजार में अब वॉशिंग मशीन से लेकर फ्रिज तक बेचेगी शाओमी

 
भारतीय बाजार में अब वॉशिंग मशीन से लेकर फ्रिज तक बेचेगी शाओमीदिग्गज चाइनीज कंपनी शाओमी अगले साल से वाइट गुड्स इंडस्ट्री में भी उतरने जा रही है। इसके बाद भारतीय बाजार की यह सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी पूरी तरह से एक कन्ज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनी बन जाएगी। यह जानकारी इस डिवेलपमेंट से वाकिफ चार सूत्रों ने दी है।
शाओमी के एग्जिक्युटिव फिलहाल एयर कंडिशनर, वॉशिंग मशीन, रेफ्रिजरेटर और लैपटॉप के साथ वैक्यूम क्लीनर और वॉटर फ्यूरीफायर जैसी कैटिगरीज की इंडियन मार्केट में संभावनाओं के बारे में पता लगा रहे हैं। उसी हिसाब से कंपनी प्रॉडक्ट्स उतारेगी। एग्जिक्युटिव ने बताया कि सभी प्रॉडक्ट्स इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) पर आधारित स्मार्ट अप्लायंसेज होंगे या फिर उन्हें इंटरनेट और दूसरी डिवाइसेज से जोड़ा जाएगा। इन प्रॉडक्ट्स को रिमोट के जरिए एक्सेस किया जा सकेगा।
कंपनी की अप्लायंसेज सेगमेंट में एंट्री से मार्केट में उसकी ग्रोथ के नए रास्ते भी खुलेंगे। शाओमी फिलहाल यहां सालाना 100 पर्सेंट से ज्यादा ग्रोथ कर रही है। देश की यह सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनी अगले साल स्मार्ट टीवी लाइन-अप बढ़ाने पर भी विचार कर रही है। एक इंडस्ट्री एग्जिक्युटिव ने बताया, 'शाओमी भारत में जिन अप्लायंसेज को लॉन्च करेगाी, उन सभी में इंटरनेट कनेक्टविटी होगी। वह प्रॉडक्ट्स को ऑनलाइन लॉन्च करने के साथ ही एक्सक्लूसिव स्टोर्स के जरिए ऑफलाइन सेगमेंट में भी उतारेगी।
कंपनी की बड़े इलेक्ट्रॉनिक और मोबाइल फोन स्टोर्स में भी प्रॉडक्ट्स अवलेबल कराने की योजना है।Óशाओमी अगले साल स्मार्टफोन, टीवी और अप्लायंसेज के साथ 500 नए शहरों में एंट्री करके ऑफलाइन मौजूदगी भी बढ़ाना चाहती है। एग्जिक्युटिव ने बताया कि वह फिलहाल देश के 50 बड़े मार्केट्स मौजूद है। इस बारे में जानकारी के लिए भेजे गए ईमेल पर शाओमी ने कोई रिस्पॉन्स नहीं दिया।
शाओमी ने इस साल फरवरी में टॉप 3 ब्रैंड्स- सैमसंग, एलजी और सोनी के मुकाबले 30-50 पर्सेंट सस्ती टीवी पेश करके टेलिविजन मार्केट में एंट्री की थी। कंपनी ने बाद में ऑफलाइन मार्केट के जरिए भी टेलिविजन बेचना शुरू किया था। कंपनी कॉन्ट्रैक्ट मैन्युफैक्चरर डिक्सन के साथ मिलकर भारत में टीवी की असेंबलिंग भी कर रही है। शाओमी ने पिछले दिनों बताया था कि वह इंडियन मार्केट में 10 लाख से ज्यादा टीवी बेच चुकी है।
एक अन्य एग्जिक्युटिव ने बताया, कंपनी अप्लायंसेज के लिए भी टीवी वाला मॉडल अपनाएगी। वह 5 पर्सेंट मार्जिन के साथ कारोबार करने की रणनीति पर अमल करती है। इसके मद्देनजर अप्लायंसेज की कीमत भी दूसरों के मुकाबले कम रहने की उम्मीद है। शाओमी ने मेक इन इंडिया के तहत टैक्स छूट के लिए लोकल असेंबली भी शुरू कर दी है।
स्मार्टफोन दिग्गज शाओमी ने 2017-18 में कुल 22,947 करोड़ रुपये की बिक्री की थी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 175 पर्सेंट (8,334 करोड़ रुपये) ज्यादा है। कंपनी के एग्जिक्युटिव ने हाल में संकेत दिया था कि अगर इंडियन मार्केट में अच्छी संभावनाएं दिखी तो शाओमी चाइनीज मार्केट में अवलेबल अपने सभी प्रॉडक्ट्स को इंडियन मार्केट में लाएगी।

From around the web