कोरबा : बकरा-भात खाने से युवक की मौत, 30 से ज्यादा बीमार

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Chhattisgarh

कोरबा : बकरा-भात खाने से युवक की मौत, 30 से ज्यादा बीमार


कोरबा : बकरा-भात खाने से युवक की मौत, 30 से ज्यादा बीमार


कोरबा, 24 जून (हि. स.)। कोरबा में बकरा-भात की दावत खाकर एक युवक की मौत हो गई। जबकि 30 से ज्यादा लोग बीमार हैं। वहीं चार साल के एक बच्चे की हालत गंभीर है। इनमें से 22 लोगों को तीन अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती किया गया है। दावत में करीब आधा दर्जन गांव के लोग शामिल हुए थे। ऐसे में बीमार लोगों का आंकड़ा बढ़ सकता है। बताया जा रहा है कि कई लोग घरों में ही उपचार करा रहे हैं। फूड प्वाइजनिंग का शिकार इन लोगों में महिलाएं, पुरुष और बच्चे भी शामिल हैं। मामला पोड़ी उपरोड़ा क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार पोड़ी उपरोड़ा क्षेत्र के ग्राम पंचायत आमाटिकरा निवासी गुलाब मरकाम के घर बुधवार को महुआ तिहार कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इसमें आसपास के करीब आधा दर्जन गांव के लोग आमंत्रित थे। इसके अलावा कोरिया जिले से भी रिश्तेदार पहुंचे थे। इस दौरान बकरा-भात की पार्टी का भी आयोजन किया गया था। खाना खाने के बाद लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी। कई लोगों को उल्टी-दस्त शुरू हो गए। इस दौरान आनन-फानन में कई लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ग्रामीण बोले-100 से ज्यादा लोग थे, 80 फीसदी बीमार

पोड़ी उप स्वास्थ्य केंद्र, जटगा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और कटघोरा उप स्वास्थ्य केंद्र में मरीजों को भर्ती कराया गया। उपचार के दौरान कोरबा के ही बेतलो गांव के 22 साल के एक युवक की मौत हो गई। अभी तक युवक के संबंध में ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी है। वहीं कटघोरा उप स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती 4 साल के बच्चे मिथलेश की हालत गंभीर बनी हुई है। मिथलेश के पिता ने बताया कि करीब 100 लोग दावत में शामिल हुए थे। इनमें से 80 फीसदी बीमार हैं। हालांकि इतने लोगों के एक साथ बीमार होने की पुष्टि नहीं हुई है।

प्रशासन के साथ गांव पहुंची थी डॉक्टरों की टीम

वहीं जिला स्वास्थ्य अधिकारी बीबी बोर्डे ने बताया कि बुधवार देर रात लोगों के गांव में बीमार होने की सूचना मिली थी। इसके बाद प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से एक टीम भेजी गई। सुबह भी प्रशासन की टीम मौके पर गई थी जांच के लिए। रात को 9 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसके बाद गुरुवार को भी कुछ मरीज पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि स्थिति अब नियंत्रण में है। गांव में आयोजन था। वहां बने खाने में गड़बड़ी के चलते इतने सारे लोग बीमार हुए थे। सबका इलाज जारी है।

हिन्दुस्थान समाचार / हरीश तिवारी