राजनांदगांव : शिकारियों द्वारा लगाए गए फंदे में मादा भालू की फंसकर हुई मौत

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Chhattisgarh

राजनांदगांव : शिकारियों द्वारा लगाए गए फंदे में मादा भालू की फंसकर हुई मौत


राजनांदगांव : शिकारियों द्वारा लगाए गए फंदे में मादा भालू की फंसकर हुई मौत


राजनांदगांव, 14 मई (हि.स.)। औंधी क्षेत्र में शिकारियों द्वारा फंसाए गए फंदे में फंस कर एक मादा भालू की मौत हो गई। घटना नक्सल प्रभावित औंधी इलाके के ग्राम पंचायत पेदोडी अंतर्गत ग्राम शारदा मुदेली के मध्य जंगल की है, जहां शहद की चाह ने एक भालू को मौत के मुंह में धकेल दिया।

दरअसल शहद से युक्त एक पेड़ में करीब 10 फीट की ऊंचाई पर अज्ञात शिकारियों ने कटीले तार का फंदा बांध रखा था, शहद खाने की चाह में मादा भालू जैसे ही पेड़ पर चढ़ा शिकारियों के फंदे में वह बुरी तरह फंस गया तथा पेड़ पर ही लटक गया। शुक्रवार सुबह से भालू पेड़ से फंदे पर लटका हुआ तड़पता रहा और आखिरकार फंदे से छूटने की जुगत करते हुए पेड़ के ऊपर ही लटक की हालत में उक्त भालू ने दम तोड़ दिया।

ग्रामीणों के द्वारा शनिवार सुबह पत्ता तोड़ने जंगल में जाते वक्त देखने के तुरंत पश्चात् स्थानीय औंधी थाना में जानकारी दिया। उसके बाद थाने से फारेस्ट विभाग को जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे वन अमले ने भालू को फन्दे से नीचे उतरवाने की कोशिश की। बता दें कि इस दरमियान भालू के शव को पेड़ से उतारने के लिए वन विभाग को मधुमक्खियों से जूझना पड़ा। घंटों मशक्कत के बाद मधुमक्खियों से जूझते हुए बहुत मुश्किल से भालू के शव को फन्दे से मुक्त करा कर पेड़ से उतारा जा सका। इस बीच क्षेत्रीय वन अफसरों व कर्मियों व ग्रामीणों को मधुमक्खियों के डंक का शिकार भी बनना पड़ा।

हिन्दुस्थान समाचार/ चंद्रनारायण शुक्ल