Shani Dev: इन भगवानों के भक्तों पर शनि देव कभी नहीं डालते कुदृष्टि, सदैव बरसाते हैं कृपा!

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Astrology

Shani Dev: इन भगवानों के भक्तों पर शनि देव कभी नहीं डालते कुदृष्टि, सदैव बरसाते हैं कृपा!

shani


Shani Dev Upay: जिन लोगों पर शनि देव नाराज हो जाते हैं, उन्हें जीवन भर कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इनकी नजर बहुत खराब मानी जाती है। हालांकि शनि देव महाराज कुछ देवताओं से बेहद डरते हैं। वह इन देवताओं के भक्तों पर कभी नकारात्मक दृष्टि नहीं डालते। ऐसे लोगों पर वह हमेशा कृपा बरसाते हैं। आइए जानते हैं कि किन देवी-देवताओं की पूजा करने से शनिदेव का दंड नहीं भुगतना पड़ता है।

भगवान शंकर को शनिदेव का गुरु माना जाता है। भगवान शिव ने शनि महाराज से कहा था कि आप मेरे भक्तों पर कुदृष्टि नहीं डालेंगे। इसके बाद जिस किसी पर भी भोलेनाथ की कृपा हो जाती है शनिदेव उस पर हमेशा प्रसन्न रहते हैं। भगवान कृष्ण शनिदेव के अधिष्ठाता देव हैं। ऐसी मान्यता है कि शनिदेव ने भगवान कृष्ण के दर्शन के लिए कोकिला वन में घोर तपस्या की थी। इसके बाद भगवान श्रीकृष्ण ने इसी वन में कोयल के रूप में शनिदेव को दर्शन दिए थे।

शनि देव हमेशा हनुमान जी से डरते हैं इसलिए जो भी भक्त हनुमान जी की पूजा करते हैं उनके सभी दोष समाप्त हो जाते हैं। शनि महाराज हनुमान जी के भक्तों को कभी कष्ट नहीं देते हैं। शनि देव भगवान सूर्य और उनकी दूसरी पत्नी छाया के पुत्र हैं। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सूर्य ने अपने पुत्र शनि को श्राप देकर उनके घर को जला दिया था। इसके बाद शनि ने तिल से भगवान सूर्य की पूजा की, जिससे वे प्रसन्न हुए।

शनि दोष से मुक्ति पाने के लिए लोग पीपल के पेड़ की पूजा करते हैं और उसके नीचे दीपक जलाते हैं। ऐसी मान्यता है कि जो भक्त पिप्लाद मुनि के नाम का जाप करता है और पीपल के वृक्ष की पूजा करता है उसे शनि देव कभी कष्ट नहीं देते।