2023 बना अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष, सरकार ने इसके लिए उठाया बड़ा कदम

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Business

2023 बना अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष, सरकार ने इसके लिए उठाया बड़ा कदम

modi hekthon


इसी तरह सरकार देश के किसानों के लिए भी कई योजनाएं चला रही है। इन योजनाओं के जरिए आमजनों को काफी फायदा हो रहा है। वहीं दूसरी तरफ सरकार ने एक बड़ी घोषणा की है। सरकार ने कहा कि वह अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष (International Year of Millets) के तहत देश भर में मोटे अनाज पर केंद्रित गतिविधियों की शुरुआत करेगी।

वहीं भारत की अध्यक्षता वाली G-20 की बैठकों में मोटे अनाज को महत्व दिया जा रहा है। ऐसे में सरकार की इस पहला को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। इसी के साथ इस बारे में कृषि मंत्रालय की तरफ से एक बयान जारी किया गया, जिसमे कहा गया है कि केंद्र सरकार के मंत्रालयों, राज्य सरकारों और भारतीय दूतावासों को 2023 में अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष (International Year of Millets) के प्रचार के लिए विभिन्न गतिविधियां आयोजित करने को कहा गया है। इसके लिए खास महीने में अभियान चलाया जाएगा और मोटे अनाज को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ाई जाएगी।

बता दें कि केंद्रीय खेल और युवा मामलों के मंत्रालय के साथ ही छत्तीसगढ़, मिजोरम और राजस्थान की राज्य सरकारों के लिए जनवरी खास महीना होगा। ऐसे में ये सब मंत्रालय और राज्य की तरफ से इस दौरान विशेष गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि संयुक्त राष्ट्र ने साल 2023 को अंतरराष्ट्रीय मोटा अनाज वर्ष घोषित किया है। इसके पहले पीएम मोदी ने भी मन की बात कार्यक्रम में मोटे अनाज के महत्त्व को बता चुके हैं।