सभी कंपनियों ने दिखाया EV, वहीं Toyota के बाद MG ने लॉन्च किया पहला Hydrogen Car

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Business

सभी कंपनियों ने दिखाया EV, वहीं Toyota के बाद MG ने लॉन्च किया पहला Hydrogen Car

MG-Hydrogen


इसमें टाटा की नई कांसेप्ट मॉडल अविन्य और कर्व शामिल है। वही हुंडई ने भी अपनी बेस्ट इलेक्ट्रिक एसयूवी Ioniq 5 को लॉन्च कर दिया है। यह पहली बार है जब मारुति ने भी अपनी जबरदस्त इलेक्ट्रिक कार EVX को पेश किया है।

एमजी ने भी इस ऑटो शो में अपनी नई एमजी हेक्टर और इलेक्ट्रिक कार को पेश किया है। लेकिन इसके साथ ही कंपनी ने अपनी पहली हाइड्रोजन कार को भी इंट्रोड्यूस कर दिया है।

एमजी के इस हाइड्रोजन फ्यूल पर चलने वाले कार का नाम Euniq 7 है। इससे पहले टोयोटा ने भारत में अपनी हाइड्रोजन फ्यूल वाली कार की टेस्टिंग शुरू की थी। इसके बाद एमजी कि यह कार भारत की दूसरी ऑफिशियल हाइड्रोजन कार होने वाली है।

हाइड्रोजन फ्यूल से चलने वाली कारों की सबसे बड़ी खासियत यह होती है कि यह पोलूशन बिल्कुल नहीं करती बल्कि इन कारों से पॉल्यूशन लेवल कम होता है। केंद्रीय सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी ने पिछले साल टोयोटा के हाइड्रोजन कार मिराई की टेस्टिंग की थी।

इसके बाद से ही ऐसी कारों को भारत में लॉन्च करने पर जोड़ दिया जाने लगा है।

माइलेज होगी ज्यादा

एमजी की यूनिक 7 एक एमपीवी वैन है। इसमें तीन हाइड्रोजन टैंक दिए गए हैं। इसको फुल करवाने में आपको 6.4 किलो गैस की जरूरत पड़ती है। इसमें एक इलेक्ट्रिक मोटर भी दिया गया है।

यह इलेक्ट्रिक मोटर 201 हॉर्स पावर जनरेट करता है। यह इंजन हाइब्रिड टेक्नोलॉजी पर काम करता है। इस गाड़ी के टैंक को एक बार फुल करवाने पर यह 600 किलोमीटर तक का माइलेज देती है। इसके फ्यूल टैंक को रिफिल होने में सिर्फ 3 से 5 मिनट का समय लगता है।

पॉल्यूशन की टेंशन खत्म

हाइड्रोजन कार की खासियत होती है कि हाइड्रोजन जलने पर धुएं की जगह पानी की बौछार होती है। इसकी खासियत यह है कि इससे हवा में नमी बढ़ती है और पोलूशन नहीं होता है। हाइड्रोजन कार में हाइड्रोजन का इस्तेमाल होता है और एमजी का दावा है कि यह कार 1 घंटे की ड्राइव में डेढ़ सौ लोगों के सांस लेने लायक हवा को साफ कर देती है।

यह कार एक एयर प्यूरीफायर के तौर पर काम करती है। भविष्य में ऐसी कारों के प्रयोग से हवा को स्वच्छ किया जाएगा। हाइड्रोजन कार इलेक्ट्रिक कार से भी कम पोलूशन करती है। जहां इलेक्ट्रिक कारों के गर्म बैटरी से हीट जनरेट होती है, जो एक प्रकार का पॉल्यूशन ही है। वही हाइड्रोजन कारें हवा को स्वच्छ बनाने में मदद करती है।

MG Euniq 7 में 93 किलोवाट आवर का बैट्री पैक दिया गया है। यह हाइड्रोजन फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी 390 पर बेस्ड है। इस कार की टॉप स्पीड 150 किलोमीटर प्रति घंटे की है और यह केवल 5 सेकंड में 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ लेती है। भविष्य में इस तरह की एमपीवी हमें भारतीय सड़कों पर देखने को मिलेगी।

एमजी के नए इनोवेशन से हमें पोलूशन को कम करने में मदद मिलेगा। हालांकि अभी के समय में हाइड्रोजन कारों की कीमत काफी ज्यादा है। इसलिए उम्मीद जताई जा रही है धीरे-धीरे आम लोगों के अनुकूल की जाएगी।