Ration Card: मुफ्त राशन बंद कर सरकार को एक और झटका, अब इस योजना के लिए 20 हजार नहीं मिलेंगे

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Business

Ration Card: मुफ्त राशन बंद कर सरकार को एक और झटका, अब इस योजना के लिए 20 हजार नहीं मिलेंगे

pic


Ration Card: यूपी की योगी सरकार ने गरीबों के लिए चलाई जा रही विवाह अनुदान योजना को बंद करने का फैसला लिया है. इस योजना के तहत सरकार गरीब वर्ग की लड़कियों की शादी में सहायता के रूप में 20 हजार रुपये देती थी।गरीबों के लिए चलाई जा रही मुफ्त राशन योजना बंद होने के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है.


अब सरकार को गरीब बेटियों की शादी के लिए मिलने वाले 20 हजार रुपये के अनुदान पर रोक लगा दी गई है. शासन स्तर से इस योजना को बंद करने की अनुशंसा प्राप्त हुई है। इसे समाज कल्याण विभाग के पोर्टल से हटाने की भी तैयारी है। हालांकि सरकार की सामूहिक विवाह योजना जारी रहेगी। इस योजना के तहत सरकार द्वारा विवाहित जोड़े को 51 हजार रुपये दिए जाते हैं।

अनुदान प्रणाली को वेबसाइट से हटाने के निर्देश

विशेष सचिव रजनीश चंद्रा द्वारा समाज कल्याण निदेशक राकेश कुमार को भेजे पत्र में योजना को बंद करने का आदेश दिया गया है. इस पत्र में उन्होंने अनुसूचित जाति और सामान्य वर्ग की गरीब बेटियों की शादी के लिए अनुदान की व्यवस्था को वेबसाइट से हटाने का निर्देश दिया था. इसके बाद समाज कल्याण विभाग के निदेशक ने राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) के तकनीकी निदेशक को 18 अगस्त को इसे वेबसाइट से हटाने को कहा.


अंतिम आवेदन 26 अगस्त को किया गया

ऐसे में उम्मीद है कि सरकार की इस योजना के आवेदन जल्द ही पोर्टल के माध्यम से बंद कर दिए जाएंगे। आपको बता दें कि इस योजना के तहत चालू वित्त वर्ष में अंतिम आवेदन 26 अगस्त को किया गया है. इसके माध्यम से चालू वित्त वर्ष में अब तक कुल 776 आवेदन किए जा चुके हैं।

इससे पहले सरकार द्वारा बंद की गई मुफ्त राशन योजना से भी 15 करोड़ लोग सदमे में थे। इसके लिए राज्य के सभी जिला आपूर्ति अधिकारियों ने प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की है.

चावल 3 रुपये प्रति किलो के हिसाब से मिलेगा

यूपी सरकार द्वारा मुफ्त राशन योजना बंद होने के बाद कार्ड धारकों को गेहूं के लिए 2 रुपये प्रति किलो और चावल के लिए 3 रुपये प्रति किलो का भुगतान करना होगा। इस योजना को जुलाई से लागू करने का प्रावधान है। लेकिन यूपी में राशन वितरण दो महीने की देरी से चल रहा है। ऐसे में राशन कार्ड धारकों को सितंबर से राशन लेने के बदले भुगतान करना होगा।