SBI ग्राहकों के लोन की बढ़ेगी EMI, जानिए वजह

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Business

SBI ग्राहकों के लोन की बढ़ेगी EMI, जानिए वजह

pic


नई दिल्ली : देश के सबसे बड़े लेंडर यानी कर्जदाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) से लोन लेना अब और महंगा हो गया है, क्‍योंकि बैंक के नए और पुराने दोनों ही ग्राहकों को अब पहले से ज्यादा ईएमआई (EMI) चुकानी पड़ेगी।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अपने बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR) को 70 बेसिस प्वाइंट या 0.7 प्रतिशत बढ़ाकर 13.45 प्रतिशत कर दिया है। इस घोषणा के बाद बीपीएलआर से लिंक बैंक के सभी तरह के लोन महंगे हो जाएंगे।


इस समय बीपीएलआर का रेट 12.75 फीसदी है. यह रेट आखिरी बार जून में रिवाइज हुआ था। उस समय भी रिजर्व बैंक के द्वारा रेपो रेट में बढ़ोतरी के बाद इसे बढ़ाया गया था। बैंक का रिवाइज बीपीएलआर 13.45 फीसदी (सालाना) 15 सितंबर 2022 से प्रभावी होगा. एसबीआई ने अपनी वेबसाइट पर यह जानकारी दी है।

बेस रेट में भी 70 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी

बैंक ने मंगलवार को अपने बेस रेट में भी इतनी ही बढ़ोतरी की थी. इसके बाद बेस रेट पर लोन लेने वाले ग्राहकों की भी ईएमआई बढ़ गई है, हालांकि यह पुराना बेंच मार्च है जिस पर बैंक लोन देते है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने हाल ही में कई बार रेपो रेट (Repo Rate) में इजाफा किया गया था, जिसके बाद सरकारी और निजी क्षेत्र के बैंक अपने लैंडिंग रेट्स को बढ़ा रहे हैं। रेपो रेट बढ़ने के बाद से बैंक के कर्ज का भुगतान महंगा हो रहा है।


आरबीआई की अगली तीन दिवसीय मौद्रिक नीति बैठक 28 सितंबर से 30 सितंबर के बीच होनी है। अनुमान है कि महंगाई को नियंत्रित करने के लिए रिजर्व बैंक फिर से रेट हाइक कर सकता है।

एसबीआई ने अपनी बेंचमार्क उधार दरों में वृद्धि भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति बैठक से कुछ हफ्ते पहले ही की है। बैंक तिमाही आधार पर बीपीएलआर और आधार दर दोनों में संशोधन करता है।