कश्मीर में बढ़ती हत्याओं पर अमित शाह ने पाक को चेताया, पाकिस्तान पर फिर मांगे सर्जिकल स्ट्राइक

 
कश्मीर में बढ़ती हत्याओं पर अमित शाह ने पाक को चेताया, पाकिस्तान पर फिर मांगे सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली (DVNA)। पाकिस्तान की सीमा से बढ़ती आंतकी गतिविधियों से माना जा रहा है कि पाकिस्तान फिर से सर्जिकल स्ट्राइक को बुलावा दे रहा है। सीमा पर अपनी हरकतों से बाज न आने पर पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि अगर पाकिस्तान ने उल्लंघन बंद नहीं किया और कश्मीर में आम नागरिकों की हत्याओं का खेल बंद नहीं किया, तो उसपर फिर से सर्जिकल स्ट्राइक किया जा सकता है।
पाकिस्तान को सर्जिकल स्ट्राइक की याद दिलाते हुए अमित शाह ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से साबित हो चुका है कि हम हमले बर्दाश्त नहीं करेंगे। अगर आप उल्लंघन करेंगे तो और भी सर्जिकल स्ट्राइक होंगे। गौरतलब है कि पाकिस्तान पोषित आतंकवाद जम्मू-कश्मीर में फिर से जड़े जमाने की कोशिश कर रहा है। हाल के दिनों में कायर आतंकवादियों ने कई घाटी में कई निर्दोष लोगों की जान ले ली। इसके अलावा आतंकियों ने सेना पर भी हमला किया था। पड़ोसी मुल्क की शह पर आतंकियों के इस खूनी खेल के बाद इस वक्त पूरा देश उबल रहा है। कई लोग इन आतंकवादियों पर करारा प्रहार करने की मांग कर रहे हैं। घाटी में देश की सेना ने आतंकवादियों को जबरदस्त चोट भी दी है। सेना ने घेर-घेर कर आतंकियों को मौत की नींद सुलाने का अभियान चला रखा है। दिल्ली और अन्य राज्यों से कुछ आतंकियों को जिंदा भी पकड़ा गया है जिसके बाद इन आतंकवादियों के कबूलनामे से पाकिस्तान की पोल-पट्टी पूरी दुनिया में खुल गई है।
गुरुवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह गोवा में मौजूद थे। यहां उन्होंने साउथ गोवा के धरबोन्द्रा गांव में नेशनल फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखते हुए पाकिस्तान को भी कड़े लहजे में चेताया है। अमित शाह ने कहा, पीएम मोदी और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर की देखरेख में किया गया सर्जिकल स्ट्राइक एक महत्वपूर्ण कदम था। हमने यह मैसेज भेद दिया कि कोई भी भारतीय सीमाओं को कोई भी परेशान नहीं कर सकता है। एक समय था बातचीत करने का लेकिन अब समय है प्रतिक्रिया का। गौरतलब है कि उरी, पठानकोट और गुरदासपुर में हुए आतंकी हमलों के बाद सितंबर, 2016 में भारत ने पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक किया था। भारत ने पाकिस्तान में बने आतंकवादियों के कई कैंपों को ध्वस्त कर दिया था। उरी में हुए हमले के 11 दिन बाद 29 सितंबर, 2016 को भारत ने पाकिस्तान में घुसकर उसके आतंकवादियों को गहरी चोट पहुंचाई थी।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web