पुरानी बस्ती रायपुर में उत्साह से सुना गया लोकवाणी

पुरानी बस्ती रायपुर में उत्साह से सुना गया लोकवाणी

रायपुर : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  की मासिक रेडियो वार्ता लोकवाणी के प्रसारण को आज पुरानी बस्ती रायपुर में बड़े उत्साह से सुना गया।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोकवाणी की 25वीं कड़ी में प्रदेशवासियों से चर्चा में कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का रायपुर से अटूट नाता रहा है। वे सबसे अधिक समय कलकत्ता में रहे। उसके बाद सर्वाधिक समय छत्तीसगढ़ में ही रहे हैं। स्वामी विवेकानंद ने जो छाप छत्तीसगढ़ में छोड़ी है, उसे चिरस्थायी बनाने के लिए उनके जन्मदिन 12 जनवरी को युवा महोत्सव का आयोजन करने की शुरूआत 2020 में की थी। लोकवाणी में बताया गया कि युवा प्रतिभाओं को सवारने, उन्हें अवसर देने और आगे बढ़ाने की दिशा में नए कदम उठाये गए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं का कैरियर केवल सरकारी नौकरी से ही नहीं बनता, बल्कि हमारे युवा साथियों ने अपनी रूचि और प्रतिभा के बल पर संभावनाओं का नया आकाश खोल दिया है। छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहली बार खेल प्रशिक्षण की समग्र अधोसंरचना का निर्माण किया गया है, जिसके अंतर्गत 9 खेल अकादमी स्थापित की जा चुकी है। टेनिस स्टेडयम और अकादमी भवन निर्माण के लिए राशि स्वीकृत की जा चुकी है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना, थिंक बी, टेक्नोलॉजी हब एवं इनोवेशन फॉर नॉलेज बस्तर, बस्तर अकादमी ऑफ डांस, आर्ट लिटरेचर एंड लैंग्वेज, राजीव युवा मितान क्लब गठित, शिक्षा-दीक्षा तथा रोजगार के अवसरों पर ध्यान देने के साथ ही एक संस्कारवान युवा पीढ़ी तैयार करने की पहल, पिछले तीन वर्षों में सरकारी, अर्द्धसरकारी कार्यालयों में सीधी भर्ती के अलावा अन्य माध्यमों से भी भर्ती के साथ ही युवाओं के लिए खेती, किसानी को बेहतर आय और युवाओं को प्रतिभा दिखाने के बेहतर अवसरों से जोड़ दिया गया है। मुख्यमंत्री ने अपने मासिक रेडियो वार्ता में कहा कि हमने छत्तीसगढ़ की फसलों को समर्थन मूल्य पर खरीदने की बेहतर व्यवस्था की है, पशुधन पालन को लाभ का जरिया बनाया है।


मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चर्चा के दौरान युवाओं की उपलब्धियों और कीर्तिमानों का राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन का उल्ल्ेख किया।  उन्होंने कोरोना से बचने के लिए टीके लगवाने सहित कोरोना प्रोटोकॉल नियम का पालन करने की बात कही।
मुख्यमंत्री ने माह जनवरी अंतर्गत मकर संक्रांति, पोंगल त्यौहार, छेरछेरा पुन्नी, शाकम्भरी जयंती एवं गणतंत्र दिवस की प्रदेश की जनता को शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर सचिन शर्मा, अविनाश दुबे, मलिका प्रजापति, मीला थवाइत, आतीका मरकाम सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web