वन मंत्री अकबर ने रायपुर से विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के लोगों से की चर्चा

वन मंत्री अकबर ने रायपुर से विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के लोगों से की चर्चा

रायपुर : वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री तथा कवर्धा के विधायक मोहम्मद अकबर ने आज विडियो कांफं्रेसिंग के माध्यम से कवर्धा विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत बोड़ला के नागरिकों से चर्चा की। इस दौरान उन्होंने उनकी समस्याओं के त्वरित निदान के लिए संबंधित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए।


वन मंत्री अकबर से इस दौरान नगर पंचायत बोड़ला के एल्डरमेन भरत सोनकर के नेतृत्व में लगभग 70 मजदूर विडियो कांफ्रेसिंग के जरिए चर्चा के लिये उपस्थित हुए। मजदूरों ने बताया कि मण्डलाटोला स्थित राज्य भंडार गृह निगम के गोदाम में सुकवापारा, मण्डलाटोला, मुड़ियापारा एवं बोड़ला के मजदूर कार्य करते हैं। बोड़ला विकासखंड में भण्डार गृह निगम के नया गोदाम हेतु 3 करोड़ 68 लाख की राशि स्वीकृत हुई है। भंडार गृह निगम ग्राम सिंघारी या बैजलपुर में नए गोदाम का निर्माण कराना चाहता है। इससे वर्तमान में कार्य कर रहे मजदूरों का हित प्रभावित होगा। मजदूरों ने यह मांग रखी कि भण्डार गृह निगम के नए गोदाम का निर्माण बोड़ला विकासखंड के खसरा क्रमांक 28 एवं 30 में रिक्त भूमि पर ही किया जाए। मजदूरों की इस मांग पर मंत्री मोहम्मद अकबर ने राज्य भण्डार गृह निगम अध्यक्ष एवं राजस्व विभाग से चर्चा करने का आश्वासन दिया।


    इसी तरह विडियो कांफ्रेसिंग से चर्चा के दौरान बोड़ला में नए राशन कार्ड की मांग रखी गई। मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सभी परिवारों को राशन कार्ड उपलब्ध कराया जा रहा है। जिला कबीरधाम में फरवरी, 2022 से अलग-अलग विकासखंडवार राशन कार्ड बनाने के लिए अतिरिक्त व्यवस्था की जाएगी, ताकि कोई भी परिवार राशन कार्ड से वंचित न रहे। विकासखंड बोड़ला में आवासीय पट्टा की मांग आने पर मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि अधिकांश आवासीय पट्टे उन्होंने अपने हाथों से हितग्राहियों को सौपे हैं। आवासीय पट्टे के कुछ आवेदन लंबित है। अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को इस संबंध में जानकारी देने निर्देश दिया गया है।


    मंत्री से चर्चा करने के लिए वीडियो कॉन्फं्रेसिंग में वनोपज सहकारी समिति कर्मचारी भी उपस्थित हुए थे। उन्होंने अपने वेतन वृद्धि एवं नियमितीकरण की मांग रखी। मंत्री मोहम्मद अकबर ने उनसे कहा कि इन मांगों के संबंध में कर्मचारियों के हित में राज्य सरकार सहानुभूतिपूर्वक विचार कर रही है। मंत्री मोहम्मद अकबर ने वनोपज सहकारी समितियों के कर्मचारियों से तेंदूपत्ता सहित अन्य लघु वनोपज के संग्रहण में रूचि लेकर कार्य करने की अपील की। बोड़ला में विडियो कांफ्रेंसिग में त्रिवार्षिय पाठ्यक्रम के चिकित्सक भी उपस्थित थे। उन्होंने बताया कि वे पिछले लगभग 10 वर्षाे से संविदा के आधार पर कार्य कर रहे हैं। जिला कबीरधाम में त्रिवर्षीय पाठ्यक्रम के आधार पर कुल 55 चिकित्सक सेवारत हैं उन्होंने अपने नियमितीकरण की मांग मंत्री के समक्ष रखी। मंत्री मोहम्मद अकबर ने उनसे कहा कि कि वे इस संबंध में जानकारी लेकर आवश्यक पहल के लिए आश्वस्त किया।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web