मंदिर में नमाज पढ़ने से गुस्साए युवकों ने किया मुस्लिम धर्मस्थल पर हनुमान चालीसा

 

हिंदूवादी नेता उत्तर प्रदेश के मथुरा में नंदबाबा मंदिर में मंदिरों में हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे हैं। ताजा मामला आगरा का है। मंगलवार को एक हिंदूवादी नेता ने हनुमान चालीसा का पाठ किया और शाहाबाद रोड पर स्थित एक मकबरे पर जय श्री राम के नारे लगाए। इसका एक वीडियो भी सामने आया है। हिंदूवादी नेता की पहचान योगी यूथ ब्रिगेड के प्रदेश अध्यक्ष अजय तोमर के रूप में की गई है। उसने भगवा वस्त्र पहन रखे थे।

सोमवार रात को आगरा में भगवा रंग के पांच मुस्लिम मंदिरों में माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई। मामला एमजी रोड, ताजगंज, छीपी टोला और पंचवटी इलाकों से संबंधित है। अटकलें हैं कि मथुरा के नंदबाबा मंदिर में दो मुस्लिम युवकों को नमाज़ अदा करने की घटना के विरोध में आगरा की घटना हुई है। हालांकि, समय रहते पुलिस सतर्क हो गई और मुस्लिम मंदिरों से भगवा रंग साफ हो गया। अब आरोपियों का पता लगाने के प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज चेक कर रही है।

बता दें, उत्तर प्रदेश के मथुरा के गोवर्धन इलाके में बरसाना रोड पर ईदगाह पर कुछ लोगों ने हनुमान चालीसा का पाठ किया। गोवर्धन के अपने सौरभ लम्बरदार, राघव मित्तल, कान्हा ठाकुर और कृष्ण ठाकुर के चार युवक ईदगाह परिसर में पहुंचे और हनुमान चालीसा पढ़ना शुरू कर दिया और जय श्री राम के नारे लगाने लगे। जैसे ही यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हुई, पुलिस प्रशासन हरकत में आया और चारों युवकों को गिरफ्तार कर लिया।

एसएसपी डॉ गौरव ग्रोवर ने बताया कि मथुरा को हिंदू-मुस्लिम सद्भाव के प्रतीक के रूप में जाना जाता है और किसी भी समुदाय के किसी भी व्यक्ति को शांति भंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। ऐसा काम करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं, मथुरा के डीएम सर्वज्ञ राम मिश्रा ने कहा कि कानून से बड़ा कोई नहीं है। किसी भी व्यक्ति को किसी भी प्रकार का विकार फैलाने का प्रयास नहीं करना चाहिए। उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

मथुरा के मंदिर में नमाज अदा करने का मामला सामने आया था। नमाज पढ़ने वाले फैसल खान को यूपी पुलिस ने दिल्ली के जामिया नगर से गिरफ्तार किया था। इस मामले में चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आरोप है कि 29 अक्टूबर को मथुरा के नंदबाबा मंदिर में चार लोग आए। इनमें से दो लोगों ने मंदिर परिसर में प्रार्थना की। इस मामले में बारसाना पुलिस स्टेशन में धारा 153 ए, 295, 505 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

From around the web