गंभीर श्रेणी में पहुंचा दिल्ली का एक्यूआई

 

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण और धुंध ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। शुक्रवार को लगातार बिगड़ती वायु गुणवत्ता में कोई सुधार नहीं हुआ। आज सुबह दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) लगभग सभी क्षेत्रों में 400 को पार कर गया जो 'गंभीर' श्रेणी में आता है।

दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति (DPCC) के अनुसार, आनंद विहार में AQI का स्तर 442, RK पुरम में 407, द्वारका में 421 और बवाना में 430 था। दिल्ली सरकार ने प्रदूषण को ध्यान में रखते हुए दीपावली पर पटाखे जलाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। यह स्थगन 30 नवंबर तक जारी रहेगा।

इसी तरह से ज्यादातर मरीजों को घूमती हुई चादर और हवा के कारण परेशानी हो रही है। बुजुर्ग और बच्चे भी प्रदूषण से परेशान हैं। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, दिल्ली के अलावा, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव और फरीदाबाद भी खराब स्थिति में हैं और AQI 400 से अधिक है। यह 'संतोषजनक' माना जाता है, 101 और 200 के बीच 'मध्यम', 201 और 300 के बीच 'खराब', 301 और 400 के बीच 'बहुत खराब' और 401 और 500 के बीच 'गंभीर'। हवा में बढ़ते प्रदूषण की समस्या पर दिल्ली, केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र और आसपास के क्षेत्रों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन के लिए एक आयोग का गठन किया है।

From around the web