पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर दंग, अनपढ़ कैदी के पेट में मिला लंबा-चौड़ा सुसाइड नोट

 

नासिक. आज की बड़ी खबर महाराष्ट्र के नासिक शहर से आ रही है। यहां सेंट्रल जेल में एक कैदी ने कथित तौर पर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। पोस्टमार्टम करते समय डॉक्टरों को उसके पेट से एक सुसाइड नोट मिला। मृतक ने सुसाइड नोट में जेल प्रशासन द्वारा उत्पीड़न के बारे में लिखा है। मृतक का नाम असगर अली मंसूरी बताया जाता है। सुसाइड नोट उसके पेट से पोस्टमॉर्टम के दौरान बरामद किया गया था जो प्लास्टिक में लिपटा था।
 
सुसाइड नोट के अनुसार, जेल कर्मचारियों द्वारा उसे लगातार प्रताड़ित किया जा रहा था और पिछले कुछ दिनों में वार्डर के रूप में काम करने की अनुमति नहीं थी। घटना सामने आने के बाद से पुलिस अधिकारी जवाब नहीं दे रहे हैं। वह कहते हैं, हम आरोपों की जांच कर रहे हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एक अन्य पुलिस अधिकारी ने कहा कि मंसूरी को हत्या के मामले में दोषी ठहराया गया था। 7 अक्टूबर को मंसूरी का शव उसके सेल में लटका हुआ मिला था। पॉलीथीन में लिपटा सुसाइड नोट, शव परीक्षण के दौरान उसके पेट से मिला है। उन्होंने यह भी बताया कि मंसूरी पढ़ना और लिखना दोनों नहीं जानता था, इसलिए हो सकता है कि किसी ने उसे यह नोट लिखने में मदद की हो। जबकि जेल प्रशासन ने सुसाइड नोट में लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया।

इस बीच, अब यह जानकारी भी सामने आई है कि मंसूरी की मौत के बाद अन्य कैदियों ने उच्च अधिकारियों को पत्र लिखकर सुसाइड नोट में आत्महत्या के लिए उकसाने वाले कर्मचारियों के खिलाफ सजा की मांग की है।

From around the web