राहुल गांधी ने कसा मोदी पर तंज, कहा- ‘Mr 56’ लाल आंख क्यों नहीं दिखा देते?

 
rahul gandhi

अज़हर उमरी
नई दिल्ली।
आगामी सर्दी के मौसम में भी चीन, पूर्वी लद्दाख में एलएसी के फ्रंट से हटने को तैयार नहीं है। इस मुद्दे पर दनों देशों के बीच बातचीत बेनतीजा रही है। चीन के अड़ियल रवैवे को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, “Mr 56” लाल आंख क्यों नहीं दिखा देते?”

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में‌‌ एलएसी पर तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। तनाव को खत्म करने के लिए दोनों देशों के बीद 13वें दौर की मीटिंग हुई थी। जो पिछले 12 बैठकों की तरह बेनतीजा रही। ऐसे में माना जा राह है कि आने वाले समय में भारत और चीन के बीच एलएसी पर गतिरोध बढ़ ‌सकता है। आपको बता दें, सोमवार को भारतीय सेना ने मीटिंग के करीब 12 घंटे बाद बयान जारी कर चीनी सेना को एलएसी के हालात के लिए जिम्मेदार ठहराया तो चीनी सेना ने भारत की मांगों को एक सिरे से खारिज कर दिया।

रविवार को पूर्वी लद्दाख से सटी एलएसी पर तनाव खत्म करने और दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने के लिए भारत और चीन के मिलिट्री कमांडर्स के बीच 13वें दौर की बैठक साढ़े आठ घंटे तक चली। लेकिन बैठक के बाद दोनों देशों की सेनाओं ने जो बयान जारी किया, उ‌ससे यह साफ हो गया है कि भारत और चीन के बीच अभी गतिरोध जारी रहेगा। भारतीय सेना ने आधिकारिक बयान जारी कर कहा कि मीटिंग के दौरान एलएसी के 'बाकी इलाकों' में तनाव खत्म करने को लेकर चर्चा हुई। बैठक में भारत ने साफ तौर से कहा कि एलएसी के ऐसे हालात चीन की तरफ से 'एक-तरफा कारवाई' (घुसपैठ) से पैदा हुए हैं, जो दोनों देशों के बीच हुए करार का उल्लंघन है‌। इसलिए चीन को ऐसे कदम उठाने चाहिए (पीछे हटने के लिए) ताकि एलएसी पर शांति बहाल की जा सके, लेकिन चीनी प्रतिनिधिंडल को ‌यह प्रस्ताव मंजूर नहीं हुआ। ऐसे में मीटिंग 'बेनतीजा' रही‌।

भारत ने मीटिंग के दौरान पूर्वी लद्दाख से सटी एलएसी के हॉट-स्प्रिंग, डेमचोक और डेपसांग प्लेन जैसे 'बाकी इलाकों' में तनाव खत्म करने की पेशकश की, लेकिन चीन ने भारत की इन मांगों को मानने से इनकार कर दिया। चीन की पीएलए सेना की वेस्टर्न थियएटर कमान के प्रवक्ता ने मीटिंग के बाद बयान जारी कर कहा कि भारत ने 'अनुचित और अवास्तविक' मांगों पर अड़ा है, जिससे वार्ता में 'कठिनाइयां' जुड़ गई हैं। वेस्टर्न थियेटर कमान के प्रवक्ता, कर्नल लॉन्ग शहुआ ने धमकी भरे अंदाज में कहा कि भारत को एलएसी की स्थिति का 'गलत आंकलन करने के बजाए' अब तक जो बातचीत हुई है और सहमति बनी है उसको 'संजोकर' रखना चाहिए।

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web