बदतर हुए पाकिस्तान के हालात, 1 किलो आटे का भाव 150 रुपये के पार

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. International

बदतर हुए पाकिस्तान के हालात, 1 किलो आटे का भाव 150 रुपये के पार

pakistan


पाकिस्तान में आर्थिक स्थिति बद से बदतर होती जा रही है। यहां लोग रोटी समेत रोजमर्रा की खाने-पीने की चीजों के लिए तरस रहे हैं। यहां लोगों को आटा, दूध और चावल जैसी चीजें भी नहीं मिल रही हैं. इन सबके बीच विश्व बैंक ने पाकिस्तान की विकास दर में बड़ी गिरावट का अनुमान जताया है. विश्व बैंक ने चालू वर्ष (2022-23) में पाकिस्तान की आर्थिक विकास दर के दो प्रतिशत पर आने का अनुमान लगाया है।

विकास दर पहले के अनुमान से कम रहेगी 
आपको बता दें कि यह जून 2022 के अनुमान से दो प्रतिशत अंक कम है। विश्व बैंक की ग्लोबल इकोनॉमिक आउटलुक रिपोर्ट में कहा गया है कि भीषण बाढ़ और वैश्विक विकास दर में गिरावट के कारण पाकिस्तान की विकास दर पहले के अनुमान से कम रहेगी।

रिपोर्ट में खुलासा
पाकिस्तान के 'डॉन' अखबार ने बुधवार को अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि विश्व बैंक की यह रिपोर्ट लंबे समय तक तेज मंदी का संकेत देती है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इस साल वैश्विक विकास दर 1.3 फीसदी रहेगी. जून में वैश्विक विकास दर तीन फीसदी रहने का अनुमान लगाया गया था।

महंगाई दर 24.5 फीसदी पर पहुंच गई
विश्व बैंक समूह के एक प्रमुख प्रकाशन द्वारा जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि उच्च मुद्रास्फीति, उच्च ब्याज दरों, निवेश की कमी और यूक्रेन-रूस युद्ध के कारण हुए व्यवधान के कारण वैश्विक विकास तेजी से नीचे आ रहा है। इसके साथ ही पाकिस्तान में महंगाई दर 24.5 फीसदी के उच्च स्तर पर पहुंच गई है.

आपको बता दें कि पाकिस्तान में आटे की कीमत 150 रुपये प्रति किलो के स्तर पर पहुंच गई है. यहां 15 किलो आटे की बोरी 2250 रुपए में बिक रही है। इसके साथ ही लाहौर में आटे की कीमत भी 145 रुपये प्रति किलो के स्तर पर पहुंच गई है.