हिंदू संगठनों ने दी टीपू जयंती समारोह रोकने की चेतावनी

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. National

हिंदू संगठनों ने दी टीपू जयंती समारोह रोकने की चेतावनी

pic


हुबली (कर्नाटक) | हिंदू संगठनों ने हुबली के ईदगाह मैदान पर प्रस्तावित टीपू जयंती समारोह रोकने की चेतावनी दी है। श्री राम सेना के संस्थापक प्रमोद मुतालिक ने कहा जब राज्य सरकार समारोह पर पाबंदी लगा चुकी है, तो नगर निगम इसकी अनुमति कैसे दे सकता है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस कदम के पीछे राजनीतिक उद्देश्य है।

गौरतलब है कि 10 नवंबर को मनाई जाने वली टीपू जयंती समारोह के लिए हुबली-धारवाड़ नगर निगम ने अनुमति दे दी है। इसके लिए एआईएमआईएम ने अनुमति मांगी थी।

प्रमोद मुतालिक ने कहा कि वह रानी चेन्नम्मा मैदान, जिसे ईदगाह मैदान के नाम से जाना जाता है, के परिसर में टीपू जयंती समारोह मनाने का विरोध करते हैं। उन्होंने कहा कि टीपू सुल्तान एक धार्मिक कट्टरपंथी थे। हम राज्य के किसी भी हिस्से में किसी को भी उनकी जयंती नहीं मनाने देंगे। हम इसे हर हाल में रोकेंगे।

उधर पुलिस ने श्री राम सेना के कार्यकर्ताओं को उस समय हिरासत में ले लिया, जब उन्होंने हुबली में रानी चेन्नम्मा सर्कल के पास विरोध प्रदर्शन करने का प्रयास किया। टीपू जयंती मनाने की अनुमति देने के लिए स्थानीय निकाय के कदम की निंदा करने के लिए विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया गया था।

प्रमोद मुथालिक ने कहा, टीपू हिंदुओं और कन्नड़ भाषा के दुश्मन थे। उनकी तुलना स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों से नहीं की जा सकती।

श्रीराम सेना हुबली-धारवाड़ नगर निगम द्वारा समारोह के लिए अनुमति देने के फैसले की निंदा करती है।