जिला परिषद उम्मीदवार विक्रम रजत हत्याकांड मामले में चार उग्रवादी गिरफ्तार

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Regional

जिला परिषद उम्मीदवार विक्रम रजत हत्याकांड मामले में चार उग्रवादी गिरफ्तार


जिला परिषद उम्मीदवार विक्रम रजत हत्याकांड मामले में चार उग्रवादी गिरफ्तार


चतरा, 23 जून (हि.स.)। चतरा पुलिस ने जिला परिषद उम्मीदवार विक्रम रजत हत्याकांड का खुलासा करते हुए चार टीएसपीसी के चार उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार उग्रवादियों में रविंद्र गंझु उर्फ मनिकांत उर्फ चौधरी, आदित्य गंझु, बहादुर उरांव और सुरेश उरांव शामिल हैं। इनके पास से दो पिस्टल, दो देशी कट्टा, 165 गोलियां एक मैगजीन 4 मोबाइल और दो अपाचे बाइक बरामद किया गया है।

चतरा एसपी राकेश रंजन ने गुरुवार को बताया कि बीते 15 जून को लावालौंग सीआरपीएफ कैंप के बगल में जिला परिषद उम्मीदवार विक्रम राजा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सिमरिया अशोक रविदास के नेतृत्व में एक एसआईटी टीम का गठन किया गया। टीम ने हत्याकांड का खुलासा करते हुए चार उग्रवादियों को गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार उग्रवादियों ने बताया कि हत्याकांड के मुख्य साजिशकर्ता प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन टीएसपीसी का कमांडर आक्रमण गंझु और भास्कर उर्फ वीरप्पन है। पूछताछ में उग्रवादियों ने बताया कि उग्रवादी संगठन की इच्छा के खिलाफ जाकर विक्रम जिला परिषद का चुनाव लड़ रहा रहा था। इससे क्षेत्र में टीएसपीसी का प्रभाव कम होने के डर से उसकी हत्या कर दी गई।

गिरफ्तार देवेंद्र गंझु के खिलाफ 21 से अधिक मामले दर्ज हैं जबकि आदित्य के खिलाफ तीन और बहादुर उरांव के खिलाफ तीन मामले दर्ज हैं। एसपी ने बताया कि छापेमारी टीम में विवेक कुमार नंदन कुमार सिंह रोहित साव, भोलानाथ प्रमाणिक सहित सशस्त्र बल शामिल थे।

हिन्दुस्थान समाचार/ विकास