अवैध बिक्री के लिये सरकारी केंद्र पर 33 कुंतल धान पकड़ा, केंद्र प्रभारी मौके से भागा

 
राजेश तिवारी
अतर्रा/बांदा।  
सरकारी धान क्रय केंद्रों में व्यापारियो द्वारा धान बेचा जा रहा हैं। इसी संदर्भ में शिकायत मिलने पर प्रशासन नें अस्सी बोरी धान पकड़ी तो हड़कंप मच गया।खरीद केंद्र प्रभारी मौके से भाग निकला!
आपको वता दें की व्यापारियों द्वारा किसानों से सस्ते दर पर धान खरीद कर सरकारी दर पर धान खरीद केन्द्रों पर बेचा जा रहा था।इस शिकायत पर जिलाविपणन अधिकारी गोविंद उपाध्याय व उपजिलाधिकारी जेपी यादव ने संयुक्त छापेमारी कर 80 बोरी धान पकड़ा जिसे मंडी सचिव के सुपुर्द कर दिया गया ।
मंडी परिषद परिसर में संचालित एफसीआई के क्रय केंद्र पर ब्यापारी द्वारा अवैध रूप से धान बेचे जाने की सूचना मिली तो  जिला खाद्य विपणन अधिकारी गोविंद उपाध्याय व एसडीएम जेपी यादव ने औचक निरीक्षण किया। बिक्री हेतु पिकप गाडी में रखकर लाए गए 80बोरी धान जो लगभग 33 कुंतल आंका गया है पकड़ लिया। जिला खाद्य विपणन अधिकारी  गोविंद उपाध्याय ने कार्यवाही करते हुए धान मंडी सचिव के सुपुर्द कर दिया ।धान नगर के लखन कॉलोनी निवासी अमन पुत्र लखन कुमार द्वारा फर्जी तरीके से बिक्री किए जाने की जानकारी मंडी सचिव रविंद्र कुमार तिवारी ने दी है । उप जिलाधिकारी जेपी यादव ने बताया कि  किसान के नाम पर फर्जी दस्तावेज लगाकर गल्ला व्यापारी एफसीआई केंद्र पर बेचने आया था । बोरियों की तौल एक जैसी थी । केंद्र प्रभारी नरेंद्र कुशवाहा जांच के दौरान भाग निकले । अधिकारियों ने कार्यवाही की बात कहीं है।

From around the web