महंगाई केवल भारत में नहीं पूरी दुनिया में बढ़ी: राजनाथ सिंह

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Uttar Pradesh

महंगाई केवल भारत में नहीं पूरी दुनिया में बढ़ी: राजनाथ सिंह

raj nath

- 2047 आते-आते दुनिया के शीर्ष तीन देशों की श्रेणी में खड़ा होगा भारत
 


लखनऊ। केन्द्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को तीन दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ पहुंचे हैं। लखनऊ विश्वविद्यालय में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी प्रमिला श्रीवास्तव मेमोरियल फाउंडेशन की ओर से आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि महंगाई केवल भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में बढ़ी है। कुछ लोग महंगाई को लेकर बोलते हैं। लोकतंत्र है, बोलने से कोई नहीं रोक सकता लेकिन हर विषय पर प्रतिक्रिया देना भी जरूरी नहीं है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि कोविड के बाद तेजी से भारत की अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है। भारत के प्रति दुनिया के लोगों का भरोसा और विश्वास बढ़ा है। भारत की साख और गरिमा दुनिया के देशों में बढ़ी है। पहले दुनिया भारत की बात गंभीरता से नहीं सुनती थी। आज भारत कोई बात विश्व पटल पर बोलता है तो पूरी दुनिया के सभी देश कान खोल कर गंभीरता से सुनते हैं।

रक्षामंत्री ने कहा कि भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। 2047 आते आते भारत दुनिया के शीर्ष तीन देशों की श्रेणी में खड़ा होगा। भारत दुनिया के ताकतवर देशों की श्रेणी में शामिल है। दुश्मन देशों से निपटने की शक्ति भारत में है। प्रत्येक भारतवासी को अपनी सेना के जवानों पर नाज होना चाहिए। पाकिस्तान ने जब नापाक हरकत की तो हमारे सेना के जवानों ने उनके घर मे घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक और एअर स्ट्राइक करने का काम किया।

क्रांतिकारियों के सपनों का भारत बन रहा

राजनाथ सिंह ने कहा कि क्रान्तिकारियों के सपनों का भारत बन रहा है। 1947 में आजादी हमें मिली। क्रान्तिकारियों का जो सपना था कि भारत सशक्त हो, समृद्ध हो और स्वाभिमानी राष्ट्र हो, इस पर अब काम हो रहा है। हर व्यक्ति को आर्थिक व सामाजिक दृष्टि से सशक्त बनाने के लिए भी आज काम हो रहा है।

रक्षामंत्री ने कहा कि क्रान्तिकारियों के हृदय में प्रखर राष्ट्रीय स्वाभिमान की प्रबल भावना थी। चन्द्र शेख आजाद, सरदार भगत सिंह और अशफाक उल्ला खां के ह्रदय में आाजदी हासिल करने की दीवानगी थी।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी प्रमिला श्रीवास्तव का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने भारत छोड़ो आन्दोलन में हिस्सा लिया था। वह भारत माता को आजाद कराना चाहती थी। प्रयाग में अल्फ्रेड पार्क के सामने उनका मकान था। वह स्थान स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का केन्द्र हुआ करता था।

राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत ने न तो दुनिया के किसी देश पर आक्रमण किया है और न ही किसी देश की एक इंच जमीन ली है। वसुधैव कुटम्बकम का संदेश इसी धरती से गया है। हमें अपनी विरासत पर गर्व करना चाहिए।

हनुमान सेतु मंदिर में किया दर्शन

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ विश्वविद्यालय में कार्यक्रम से वापस आते समय हनुमान सेतु मंदिर पहुंचकर हनुमान जी महाराज का दर्शन किया।

कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति आलोक राय, भाजपा नेता वीरेन्द्र तिवारी, महानगर अध्यक्ष व एमएलसी मुकेश शुक्ला, महानगर महामंत्री सुनील यादव,पुष्कर शुक्ला और त्रिलोक सिंह अधिकारी उपस्थित रहे।