डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन

डंके की चोट पर 'सिर्फ सच'

  1. Home
  2. Uttar Pradesh

डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन


डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन


डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर विचार गोष्ठी का आयोजन


मऊ, 23 जून (हि.स.) डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा नगर में वृहस्पतिवार को विचार गोष्ठी का आयोजन भारतीय जनता पार्टी के जिला कार्यालय पर भाजपा जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता की अध्यक्षता में पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा किया गया। विचार गोष्ठी में जिसमें भाजपा के प्रदेश, जिलास्तरीय पदाधिकारी एवं मंडल अध्यक्ष व अन्य भाजपा नेता आदि शामिल हुए। विचार गोष्ठी में प्रमुख वक्ताओं ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जीवनवृत पर प्रकाश डाला।

प्रदेश कार्यसमिति सदस्य हौसला प्रसाद उपाध्याय ने डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को राष्ट्रीय स्वाभिमान का प्रतीक बताते हुए कहा कि कोई भी राष्ट्र तभी वैभवशाली हो सकता है जब वह एकता के सूत्र में बंधा हो। यही वजह है कि एक राष्ट्र, एक विधान, एक प्रधान के संकल्प को पूरा करने में श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अपने प्राणों की आहुति दे दी। भाजपा जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता ने कहा कि डाॅ. मुखर्जी आधुनिक भारत के चाणक्य थे, उन्होंने भारत की एकता और अखंडता के लिए अपना जीवन बलिदान कर दिया। आज कश्मीर, पंजाब और बंगाल यदि भारत का हिस्सा है तो उसमें डाॅ. मुखर्जी का योगदान महत्वपूर्ण है।

गोष्ठी की संयोजक जिलाउपाध्यक्ष संगीता द्विवेदी ने कहा कि डाॅ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी आजाद भारत के पहले बलिदानी थे जिन्होंने भारत की एकता के लिए अपने प्राणों को न्योछावर कर दिया, साथ ही जिला उपाध्यक्ष ने कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि सभी लोग डॉ. मुखर्जी के बलिदान को सार्थक करने के लिए उनके बलिदान दिवस से प्रेरणा लेते हुए अपने आस-पास राष्ट्रवाद और सामाजिक समरसता को अभियान की तरह प्रसारित करें। यही उनके लिए सच्ची श्रद्धांजलि हो सकती है। इसके पूर्व लोगों ने मऊ नगर में स्थापित डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी और उनके दिखाए रास्ते पर चलने का प्रण लिया।

इस अवसर पर डाॅ. एचएन सिंह, भरत लाल राही, अशोक सिंह, संतोष सिंह, राकेश मिश्रा, नूपुर अग्रवाल, सुनील यादव, रमेश राय, सचिंद्र सिंह, अंजनी सिंह, राघवेंद्र शर्मा, राकेश तिवारी, रामप्रवेश राजभर, भारत भीम, डाॅ.ज्योति सिंह, इंद्रदेव प्रसाद, पुनीत यादव, अखण्ड सिंह, अभिषेक राय आदि सैकड़ों कार्यकर्ता कार्यक्रम में शामिल रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ आनन्द कुमार