कांस्टेबल बीना मासूम को लेकर निभाती हैं खाकी का फ़र्ज़

 
00

बीना प्रयागराज में पुलिस कांस्टेबल हैं। वह साथ-साथ खाकी का फर्ज निभाती हैं, वहीं दूसरी तरफ मां के प्यार की मूर्ति बन जाती हैं। बीना जहां खुद पुलिस विभाग में नौकरी कर रही हैं, वहीं पति विशाल गौतम भी पुलिस विभाग में हैं। दोनों की ड्यूटी अलग-अलग जगहों पर है। 

बीना पहले घर के काम निपटाती हैं और फिर खाकी वर्दी पहनकर अपनी ड्यूटी पर जाती हैं। इतना ही नहीं ऑफिस जाते समय उनका एक साल का बेटा विभु भी उनके गम में है। ऑटो से वह कोर्ट स्थित सीसीटीवी कंट्रोल रूम में जाती है और वहां ड्यूटी के साथ-साथ अपने बच्चों की देखभाल भी करती है।

एक साल का बच्चा जिसे घर और परिवार के बीच लाड़-प्यार की जरूरत होती है, उसकी मां के साथ हर दिन अदालत के अंदर हजारों की भीड़ होती है। इस भीड़ में उन्हें संभालना मां बीना के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। 

कांस्टेबल बीना बताती है कि परिवार में और भी सदस्य हैं लेकिन वह गांव में है। मैं पति के साथ पुलिस लाइन में रहती हूं। पति भी पुलिस विभाग में है, इसलिए मजबूरी है कि मुझे बच्चे को साथ लाना पड़ रहा है। बीना मूल रूप से उन्नाव जिले की रहने वाली हैं।

 

फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें, साथ ही ताज़ा अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर हमें फॉलो करें।

From around the web